Video: दुकान पर लेने गए थे किराने का सामान, जबरन लगा दी गई कोविड वैक्सीन

Video: दुकान पर लेने गए थे किराने का सामान, जबरन लगा दी गई कोविड वैक्सीन

Coronavirus: कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद पूरी दुनिया में इसकी वैक्सीन पर काम चल रहा है. सोचिए अगर आप किसी दुकान पर सामान खरीदने गए हों और आपको जबरन कोरोना वैक्सीन लगा दी जाए तो आपका कैसा रिएक्शन होगा? ऐसा ही कुछ अमेरिका की राजधानी में हुआ. यहां किराने का सामान लेने गये कुछ युवकों को जनरल स्टोर पर ही कोरोना की वैक्सीन लगा दी गई.

अमेरिका की राजधानी मेंं एक बड़े स्टोर पर किराने की खरीदारी के लिए गए एक लॉ स्टूडेंट और उसके दोस्त को स्टोर पर ही कोविड की वैक्सीन अचानक लगा दी गई. डेविड मैकमिलन तथा उनके दोस्त पिछले सप्ताह स्टोर पर घर का सामान लाने गए थे, वहां पर सुपरमार्केट के फार्मेसी अनुभाग के कार्यकर्ता ने उन्हें कोविड वैक्सीन लगा दी.

मैकमिलन ने इस घटना का वीडियो पोस्ट किया है. इसमें वह कोविड वैक्सीन लगवाते दिखाई दे रहे हैं. इस बाबत उन्होंने बताया कि लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए शेड्यूल दिया गया था, लेकिन उन्हें और उनके दोस्त को सुपर मार्केट में वैक्सीन ऑफर की गई. मैक्मिलन द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो को कई लाख लोग  देख चुके हैं.

बता दें कि अमेरिका में मॉडर्ना कंपनी कोरोना की वैक्सीन दे रही है. मॉडर्ना वैक्सीन को बहुत ठंडे तापमान पर रखा जाना चाहिए. जब इसे फ्रीजर से हटाया जाए तो उसके ढक्कन को जल्दी से निकाल देना चाहिए. गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले अमेरिका में Pfizer की वैक्सीन लेने की वजह से एक डॉक्टर की मौत हो गई थी.

इस डॉक्टर की मौत 3 जनवरी को हूई थी. अमेरिका के साउथ फ्लॉरिडा के इस 56 वर्षीय डॉक्टर की पत्नी ने बताया कि उनके पति की मौत फाइजर की कोरोना वैक्सीन लेने की वजह से हुई है.


मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- नॉर्वे में वैक्सीनेशन के बाद 23 लोगों की मौत, फाइजर की वैक्सीन पर सवाल

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- नॉर्वे में वैक्सीनेशन के बाद 23 लोगों की मौत, फाइजर की वैक्सीन पर सवाल

कई देशों में कोरोना वायरस से निपटने के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। इस बीच नॉर्वे से एक हैरान करने वाली खबर आई है। चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक, यहां वैक्सीन लगवाने के बाद 23 लोगों की मौत हो गई। बताया जाता है कि इन सभी को अमेरिकी कंपनी फाइजर की वैक्सीन लगाई गई थी।

नॉर्वे में नए साल के जश्न के 4 दिन बाद वैक्सीनेशन शुरू किया गया था। देश में 33 हजार लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। नॉर्वे की मेडिसिन एजेंसी के अनुसार, अब तक 29 लोगों में साइड इफेक्ट दिखे हैं। 23 मरीजों की मौत हो गई है। इनमें से 13 की पुष्टि हुई है। नॉर्वे में कोरोना के 57 हजार 736 केस सामने आ चुके हैं।

मरने वालों में ज्यादातर की उम्र 80 साल से ज्यादा थी
एजेंसी के डायरेक्टर स्टाइनर मैडसेन ने कहा कि मरने वालों में ज्यादातर की उम्र 80 साल से ज्यादा थी। जांच में पाया गया कि इनमें से कई अस्पताल में एडमिट थे। कुछ लोगों ने वैक्सीन लगने के बाद बुखार और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की थी। फिर उनकी हालत बिगड़ गई।

मैडसेन से कहा है कि ऐसे मामले बहुत रेयर हैं। हजारों लोगों को बिना किसी साइड इफेक्ट के वैक्सीन लगाई गई है। इस तरह यह माना जा सकता है कि जिन लोगों की मौत हुई, वे दिल की बीमारी या किसी अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित थे।

एक्सपर्ट का दावा- वैक्सीन जल्दबाजी में डेवलप की गई
रूस की न्यूज एजेंसी स्पूतनिक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 29 लोगों में साइड इफेक्ट की सूचना आई थी। इनमें से 23 की मौत हो गई। इन्हें वैक्सीनेशन से जोड़ा जा रहा है। वहीं ग्लोबल टाइम्स ने शुक्रवार को कहा कि देश के हेल्थ एक्सपर्ट्स ने फाइजर की mRNA बेस्ड वैक्सीन का इस्तेमाल रोकने के लिए गुजारिश की है। चीन के एक्सपर्ट के मुताबिक यह वैक्सीन जल्दबाजी में डेवलप की गई थी।


अभी अभी : सरकार का बड़ा ऐलान! कर्मचारियों को तोहफा, अब होगी पैसों की बारिश       क्या बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन लगवाई जा सकती है? जानें       फिर बेनतीजा रही किसान नेताओं और सरकार के बीच वार्ता       सेना ने किया कमाल, पहली बार साथ उड़े 75 ड्रोन्स       Schools in Himachal Pradesh: 15 फरवरी से तैयार रहें, हुआ ये बड़ा ऐलान       मंत्रालय ने दी ये जानकारी, वैक्सीन लगवाने से पहले जान लें साइड इफेक्ट्स       झारखंड: सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाने वालों पर होगा एक्शन       सेना के भयानक हथियार, हिले चीन-पाकिस्तान       अब घर तक शराब पहुंचाएगी सरकार       हरसिमरत का राहुल पर निशाना, बोलीं...       भारत में बनी इस वैक्सीन को लेकर अमेरिकी मीडिया ने खड़े किये सवाल       इन 2 राशियों को मिलेगा लाभ, जानें किसका होगा बुरा हाल       शतभिषा नक्षत्र में ये 2 राशियां रहें सावधान!       UPPCL Junior engineer recruitment 2021: यूपीपीसीएल ने जूनियर इंजीनियर के पदों पर निकली भर्तियां, इस तारीख तक करें आवेदन       IFFI 2020: 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का हुआ आगाज, इस बार ये है खास       रिषभ पंत को इसके कारण शेन वॉर्न और मार्क वॉ ने दी नसीहत, कहा- दायरे में रहकर करें अपना काम       पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित, मैं खुद चाहता था लगवाना       OHB समूह के लिए लाॅन्च होगा कम्युनिकेशन सैटेलाइट       Republic Day Parade 2021: दिल्ली-NCR में 15 फरवरी तक ड्रोन व ग्लाइडर उड़ाने पर रहेगा प्रतिबंध       ये दे रहे हैं तन, मन और धन से किसान आंदोलन को धार