शव को जलाने से पहले क्यों मारा जाता है सिर पर डंडा, जानें ये राज

शव को जलाने से पहले क्यों मारा जाता है सिर पर डंडा, जानें ये राज

इंसान का जन्म और मृत्यु एक चक्र है। जिससे हर जीव गुजरता है। लेकिन हिंदू धर्म में कई रीति-रिवाज हैं जिनके बारे में हमें जानना बहुत जरुरी है। ऐसे में आज हम आपको उन्हीं रीति-रिवाज में से एक रिवाज के बारे में बताने जा रहे हैं। अंतिम क्रिया के दौरान मृतक के शव को जलाने के वक्त उनके सर पर डंडा क्यों मारा जाता है।

शव के सिर पर क्यों मरते है डंडा:

हिंदू धर्म में शव को जलाते हुए मृतक व्यक्ति के सर पर डंडा मारा जाता है। अब सवाल यह खड़ा होता है कि आखिर शव के सर पर डंडा क्यों मारा जाता है ?

इसके पीछे का राज:

मृतक व्यक्ति के सर पर डंडा इसलिए मारा जाता है ताकि अगर मृतक व्यक्ति के पास किसी तरह का कोई तंत्र विद्या होगा तो कोई दूसरा तांत्रिक इस विद्या को चुरा ना ले और उसकी आत्मा को अपने वश में ना कर ले। कोई तांत्रिक उस आत्मा को अपने वश में कर लेने के बाद उससे किसी भी तरह के बुरे कार्यों को अंजाम दे सकता है।


लेह के लड़के ने यूं जीता सबका दिल, देख लोग दे रहे हैं शाबाशी

लेह के लड़के ने यूं जीता सबका दिल, देख लोग दे रहे हैं शाबाशी

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे देख आपके मन में भी देशभक्ति की ज्वाला धधक उठेगी। इस वीडियो में जिस तरह एक छोटे बच्चे ने सैनिकों के सामने परेड की। वह काबिलेतारीफ है। इस वीडियो में साफ देखा जा रहा है कि एक छोटा सा बच्चा स्वेटर और जूते पहने सड़क किनारे खड़ा है। जबकि वीडियो देख ऐसा लगता है, मानो उस स्थान पर किसी भवन अथवा कार्यालय का निर्माण कार्य चल रहा है। नन्हा बच्चा मिट्टी के ढेर के बगल में खड़ा है।


तभी दो सैनिक उसके पास आते हैं और बच्चे को परेड करने के लिए कहते हैं। इसमें एक सैनिक को कहते सुना जा रहा है कि तुम्हें मिलना था ना। ओके चलो, अब पैर सावधान करो। यस, अब विश्राम करो, फिर से सावधान करो और अब सलाम करो। छोटा बच्चा बखूबी सही तरीके से परेड करता है। उस समय दोनों सैनिक बच्चे को बेहतर जीवन की शुभकामनाएं देते हैं।

सैनिक जितनी दफा बच्चे को परेड करने के लिए कहता है। बच्चे का मनोबल उतना बढ़ता जाता है और वह अच्छे तरीके से परेड कर रहा है। बच्चे ने जिस अंदाज में सैनिकों को सलामी दी है। उससे साफ जाहिर है कि बच्चे के मन में सैनिक बनने की तमन्ना है। यह वीडियो लेह के किसी गांव का है, जिसे सैनिक ने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड किया है।

इस वीडियो को भारतीय वन सेवा के अधिकारी सुधा रमन ने सोशल मीडिया ट्विटर पर अपने अकांउट से शेयर की है, जिसे अब तक लगभग 80 हजार लोग देख चुके हैं और 2500 लोगों ने लाइक किया है। वहीं, 500 लोगों ने इसे रिट्वीट किया है, जबकि कई लोगों ने कमेंट किए हैं, जिसमें उन्होंने बच्चे की तारीफ की है।