OMG! अकांक्षा पुरी ने हटाया पारस छाबड़ा के नाम का टैटू उसपर नया टैटू बनाया       रघुबीर यादव की जिंदगी में आया भूचाल, लगे कई बड़े आरोप       'बेडरूम सीन' करके इतनी परेशान हो गई ये एक्‍ट्रेस, बोला...       अब किसानों के संगठन को नरेन्द्र मोदी सरकार देगी 15 लाख रुपए       दिल्ली हिंसा पीड़ितों को आज से मुआवज़ा देगी केजरीवाल सरकार       जानिए क्यों पड़ी इस दिन की जरुरत, भारत में मनाया गया पहला प्रोटीन डे ?       विदाई से 2 घंटे पहले क्या हुआ कि दूल्हे की कराई गई दूसरी शादी, जानें पूरा मामला       कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की 'राजधर्म' पर भाजपा को नसीहत, कहा...       पी.चिदंबरम ने कहा कि राजद्रोह कानून पर अरविंद केजरीवाल सरकार की समझ गलत       खुलकर लीजिए सांस, दिल्‍ली की हवा हुई शुद्ध       तेज रफ़्तार ट्रेन की चपेट में आई यात्री बस, 20 लोगों की भयावह मौत       दुनियाभर के सामने फिर शर्मसार हुआ पाक       OH NO! इस लड़की का 2 घंटे में 12 दरिंदों ने किया रेप, सुनकर सभी के होश उड़ गए       सगे भाई ने ही लूटी बड़ी बहन की अस्मत, और फिर...       नाबालिग संग किया रेप, हवस की भूख में अँधा हुआ बुजुर्ग       रिक्शावाला ने पहली क्लास की छात्रा को स्कूल ले जाते वक्त कर दिया रेप और फिर...       दिल्ली हिंसा व अंकित की मर्डर के आरोपों से घिरे ताहिर का बयान       नाबालिग छात्रा को नशा देकर बलात्कार करता था टीचर       कपिल मिश्रा के बचाव में उतरे रविशंकर प्रसाद, कहा...       कई महान बीजेपी नेता हुए शामिल, महाप्रभु के दर्शन करने पहुंचे अमित शाह      

अब देश व पॉलिटिक्स पर अब चुप नहीं बैठते बॉलीवुड सितारे

अब देश व पॉलिटिक्स पर अब चुप नहीं बैठते बॉलीवुड सितारे

मुंबई: एक दौर था जब सिनेमा जगत (Bollywood) से जुड़े लोग सियासी मुद्दों पर किसी भी तरह की तीखी रिएक्शन देने से कतराते थे। कोई खुलकर इस पर बात करता दिखाई नहीं देता था। हालांकि अब सोशल मीडिया (Social Media) के दौर में इस इंडस्ट्री से जुड़े लोग खुलकर अपनी राय जाहिर करते दिख रहे हैं। सिर्फ यही नहीं अब लोग किसी भी मामले पर सपोर्ट व विरोध करने वाले दो ग्रुप में भी बंटे दिखाई देते हैं।

इस दौर में भी लगातार ये सुनने को मिल रहा है कि 'बॉलीवुड' अक्‍सर सियासी मुद्दों पर चुप्‍पी साधे रखता है। लेकिन देखा जाए तो इसी दौर में ही बॉलीवुड सितारे सबसे ज्‍यादा खुलकर समर्थन या विरोध में अपनी बात रखते हुए दिखाई दिए हैं। किसी सियासी मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर सपोर्ट अभियान चलाना हो या फिर विरोध में शिकायती पोस्ट लिखना हो, बॉलीवुड सेलेब्रिटीज हर एक मामले पर बोलते नजर आए हैं।

ऐसे स्टार्स भी हैं जो बोलने की आजादी से जुड़े सवाल खड़े कर रहे हैं, लेकिन इस विचारधारा को सामने रखने वाले ये सितारे ही पुरजोर ढंग से अपनी बात रखते दिख रहे हैं। वहीं जब बात आती है एक्ट्रेस ेज की तो वो पहले के दौर में किसी भी बहस में कम ही पड़ा करती थीं लेकिन आज वो समय है जब इंडस्ट्री की बड़ी से बड़ी एक्ट्रेस ेज भी इन मामलों पर दमदार ढंग से अपनी बात रखती नजर आ रही हैं। चाहे जेएनयू जाने वाली दीपिका पादुकोण हों या फिर इस सारे मुद्दे का विरोध करने वाली कंगना रनौत।

चलिए अब गौर करें कंगना रनौत के उस बयान पर जिसमें उन्होंने ये सवाल उठाया था कि बॉलीवुड सितारे देश से जुड़े मुद्दों पर बोलने से बचते क्यों हैं? उनका बोलना था कि हमारे देश में जो परिवर्तन आएंगे, उससे हमारी जिंदगी पर भी प्रभाव पड़ेगा। एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमें देश व पॉलिटिक्स से जुड़े हर मामले पर अपनी राय खुलकर रखनी चाहिए। आप ये नहीं कह सकते कि मेरे घर में बिजली-पानी आ रहा है तो मैं क्यों बोलूं किसी मुद्दे में कंगना के इस बयान पर लंबी बहस चली थी।

आज बॉलीवुड एक्टर्स से लेकर फिल्म मेकर्स तक सभी देश व पॉलिटिक्स से जुड़े मुद्दों पर सपोर्ट व विरोध में बोलते दिखाई दे रहे हैं। वो न सिर्फ बोल रहे हैं बल्कि अपना स्टैंड भी खुलकर जाहिर कर रहे हैं। यहां तक कि सियासी मुद्दों पर अलग राय के कारण फिल्म स्टार्स एक-दूसरे से खुलेआम भिड़ने को भी तैयार हैं।

हाल ही में ऐसे ही दो महान स्टार्स के बीच बड़ी बहस देखने को मिली है। हम बात कर रहे हैं नसीरुद्दीन शाह व अनुपम खेर की। सीएए पर बात करते हुए नसीरुद्दीन शाह व अनुपम खेर में वैचारिक मतभेद देखने को मिला था। नसीरुद्धीन ने कड़ी रिएक्शन जाहिर करते हुए अनुपम खेर को खरी-खोटी सुना डाली थी। हालांकि बाद में अनुपम खेर ने भी इस पर जवाब दिया था।

अब बात उस मतभेद की जिसमें पहले देश व पॉलिटिक्स पर अपनी बेबाक राय रखने वाली कंगना रनौत ने दीपिका पादुकोण के जेएनयू जाने को लेकर बोला था, 'मैं उनके निर्णय पर कुछ नहीं बोल सकती क्योंकि ये उनकी व्यक्तिगत पसंद है। लेकिन मैं ऐसा कार्य कभी नहीं करती। '

फरहान अख्तर, अक्षय कुमार, अनुराग कश्यप, नंदिता दास, प्रकाश राज, परेश रावल, स्वरा भास्कर, शबाना आजमी, सैफ अली खान, कबीर खान, जावेद अख्तर व जॉन अब्राहम जैसे कई स्टार्स खुलकर देश से जुड़े हर मामले पर बोलते दिखाई दिए हैं

वैसे बॉलीवुड व पॉलिटिक्स का रिश्ता बहुत ज्यादा पुराना भी है। दिलीप कुमार, सुनील दत्त, राजेश खन्ना, विनोद खन्ना, शत्रुघ्न सिन्हा व अमिताभ बच्चन जैसे स्टार्स सियासी मैदान में भी उतर चुके हैं। इसके साथ ही कई बॉलीवुड स्टार्स तो आज भी पॉलिटिक्स में एक्टिव हैं व अपने बेबाक अंदाज के लिए पहचाने जाते हैं। ये स्टार्स हर मामले पर मजबूती के साथ अपनी बात रखते हैं। ऐसे में ये बात पूरी तरह साफ है कि सियासी मुद्दे पर कुछ भी बोलने से बचने वाले अब तक चले आ रहे ट्रेंड से बॉलीवुड धीरे-धीरे निकल रहा है।


रघुबीर यादव की जिंदगी में आया भूचाल, लगे कई बड़े आरोप

रघुबीर यादव की जिंदगी में आया भूचाल, लगे कई बड़े आरोप

नई दिल्ली: मुंगेरीलाल के हसीन सपने में मुगेरी के नाम से प्रसिद्ध एक्टर रघुवीर यादव (Raghuveer Yadav)के सपने अब चकनाचूर हो चुके हैं. उनकी पत्नी पूर्णिमा खरगा (Purnima)ने उनके ऊपर कई बड़े गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होनें एक साक्षात्कार के दौरान इस बात का खुलासा किया है कि रघुवीर यादव(Raghuveer Yadav) का एक से नही बल्कि अन्य दूसरी स्त्रियों के साथ संबंध रहे हैं. पूर्णिमा ने बताया कि उनके पति संजय मिश्रा की पत्नी लाइट अचरेजा के साथ भी लिव-इन में रहते थे. उन्होंने इस मुद्दे में नंदिता दास का नाम भी शामिल किया.और बोला कि वह नंदिता से विवाह करना चाहते थे, लेकिन बाद में नंदिता रघुबीर को छोड़ किसी व के प्यार में पड़ गईं.

अंतर्राष्ट्रीय ख्याति की कथक नृत्यांगना पूर्णिमा ने अब इस आधार पर तलाक की अर्जी देते हुए एक लाख रुपये के अंतरिम भरण-पोषण व दस करोड़ रुपये के अंतिम गुजारा भत्ते की मांग की है. इसी के आधारस्वरूप रघुबीर को उनके तलाक के मुद्दे में पारिवारिक न्यायालय ने समन भेजा है.

पूर्णिमा ने बताया कि उनका बेटा अब 14 साल का हो गया है, 'मेरे लिए बेटे की परवरिश करना कठिन हो रहा है. न्यायालय से उन्होंने जो तो भी रकम देने की बात की थी वो भी मुझे समय पर नहीं मिल पा रही है. मेरे पास ना रहने के लिए घर है व ना ही आमदनी का कोई साधन.' बताते चलें कि पूर्णिमा व रघुवीर ने वर्ष 1988 में विवाह की थी हालांकि वर्ष 1995 से वे दोनों अलग रह रहे थे. दोनों का एक बेटा भी है.

Loading...