समुद्र में लग जाते लाशों के ढेर, अमेरिका की इस एक गलती से आज छिड़ जाती जंग

समुद्र में लग जाते लाशों के ढेर, अमेरिका की इस एक गलती से आज छिड़ जाती जंग

वाशिंगटन: आज की बड़ी खबर रूस से आ रही है। रूस ने जापान सागर के पास अपने समुद्री सीमा में अवैध रूप से आए अमेरिकी नौसेना के एक जंगी जहाज को पकड़ लिया। बाद में उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। इस बात की पुष्टि खुद रूस के रक्षा मंत्रालय ने की है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो रूस के रक्षा मंत्रालय ने इस पूरे मामले में बयान जारी किया है। जिसमें ये बताया गया है कि एक रूसी युद्धपोत ने जापान सागर के पास रूस के जल क्षेत्र में अवैध रूप से मौजूद अमेरिकी नौसेना के विध्वंसक जहाज को पकड़ा है।

रूस के नौसेना के एडमिरल विन्नेरादोव के मुताबिक रूसी जंगी जहाज द्वारा चेतावनी दिए जाने के बाद अमेरिकी जहाज उसके जल क्षेत्र से वापस पीछे लौट गया।

रूस की सूझबूझ से टल गई जंग
इस घटना के सामने आने के बाद हर तरफ रूस की सूझबूझ की चर्चा हो रही है। अगर रूस ने हड़बड़ाहट में अमेरिकी नौसेना के खिलाफ कोई गलत कदम उठा लिया होता तो आज दोनों देशों के बीच जंग छिड़ गई होती।अमेरिका नौसेना की गलती का खामियाजा तमाम बेकसूर लोगों को भुगतना पड़ता।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हिंद महासागर में इस समय अमेरिका नौसेना भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया की नौसेना के साथ मिलकर युद्धाभ्यास भी कर रही है। इस युद्धाभ्यास को मालाबार नेवल एक्सरसाइज का नाम से जाना जा रहा है।

हिंद महासागर के अंदर मालाबार नेवल एक्सरसाइज में निमित्ज जंगी जहाज ने भी भाग लिया है जो अमेरिकी नौसेना का परमाणु ऊर्जा संचालित विमान वाहक पोत है।

निमित्ज़ को वर्ष साल 2017 में अमेरिका नौसेना में किया गया था शामिल
इस विमान वाहक युद्ध पोत का नाम द्वितीय विश्व युद्ध के समय अमेरिका के प्रशांत बेड़े के कमांडर फ्लीट एडमिरल चेस्टर डब्लू निमित्ज़ के नाम पर पर रखा गया है।

इस युद्धपोत की लम्बाई 1,092 फीट (333 मीटर) हैं और इसका वजन तकरीबन 100,000 से टन से अधिक है। पूरी दुनिया के अंदर निमित्ज़ अपनी श्रेणी का सबसे बड़ा युद्धपोत है। निमित्ज़ को वर्ष साल 2017 में अमेरिकी नौसेना के बेड़े में शामिल किया था।


मिसाइल लाई तबाही, पाकिस्तान को खुशी में मिला ये गम

मिसाइल लाई तबाही, पाकिस्तान को खुशी में मिला ये गम

नई दिल्ली। जो बाइडेन ने अमेरिका में 46वें राष्ट्रपति के पद की जब शपथ ले रहे थे, तो उससे कुछ घंटे पहले पाकिस्तान ने बैलेस्टिक मिसाइल शाहीन-3 के सफल परीक्षण की घोषणा की। मिसाइल के सफल परीक्षण के बारे में जानकारी देते हुए पाकिस्तानी सेना ने बुधवार को कहा कि शाहीन-3 तकनीक और वेपन सिस्टम के मामले में आधुनिक है। वहीं प्रधानमंत्री इमरान खान ने इसे लेकर अपने वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

कई घर तबाह हुए और कई लोग जख्मी
पाकिस्तान में मिसाइल के सफल परीक्षण को लेकर खुशियां मनाई जा रही थी, लेकिन मिसाइल का परीक्षण बुधवार को विवादों में घिर गया। इसका परीक्षण बलूचिस्तान के डेरा गाजी खान से किया गया था। ऐसे में बलूचिस्तान रिपब्लिकन पार्टी ने कहा है कि शाहीन-3 डेरा बुग्ती के रिहाइश में आकर गिरी जिससे कई घर तबाह हुए और कई लोग जख्मी भी हुए हैं।

इस बारे में बलूचिस्तान रिपब्लिकन पार्टी ने ट्वीट कर बताया, पाकिस्तान आर्मी ने बुधवार को शाहीन-3 मिसाइल का परीक्षण किया। ये मिसाइल डेरा गाजी खान के राखी इलाके से दागी गई और डेरा बुग्ती में रिहाइशी इलाके में आकर गिरी।

बलूचिस्तान को प्रयोगशाला बनाकर रख दिया
ऐसे में बलूचिस्तान रिपब्लिकन पार्टी के प्रवक्ता शेर मोहम्मद बुग्ती ने भी मिसाइल परीक्षण के दौरान लोगों के जख्मी होने की बात कही। इस पर उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘’पाकिस्तान की सेना ने बलूचिस्तान को प्रयोगशाला बनाकर रख दिया है।

जबकि आर्मी ने शाहीन 3 का परीक्षण डेरा गाजी खान इलाके में किया और ये डेरा बुग्ती इलाके में आकर गिरी। वहीं यह रिहाइशी इलाका है। ये मिसाइल आम लोगों की मौजूदगी में दागी गई। इसमें दर्जनों घर तबाह हो गए और कई लोग जख्मी हुए हैं।’’

इसी कड़ी में बुग्ती ने दूसरे ट्वीट में #MissileAttackInDeraBugti के साथ लिखा है, ‘’बलूचिस्तान हमारी मातृभूमि है, ये कोई प्रयोगशाला नहीं है। हम सभी पीड़ित देशों से अपील करता हूं कि वे पाकिस्तानी सेना के इस मिलाइल परीक्षण के खिलाफ आवाज उठाएं।’’


तेज दिमाग पाने के लिए रोजाना इस तेल का करें इस्तेमाल       सर्दी में एलर्जी से परेशान हैं तो जानिए बचाव के उपाय       आंखो और त्वचा के लिए किसी दवा से कम नहीं है Witch Hazel, ऐसे करें इस्तेमाल       डायबिटीज के मरीज ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए स्नैक्स में खाएं ये चीजें       कोरोना के लक्षणों को घर पर ठीक करने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके       क्या आप जानते हैं हथेली पर मौजूद इन निशानों का मतलब?       टोफू के स्क्युवर्स को तंदूरी फ्लेवर है बहुत ही लाजवाब       मिनटों में तैयार होने वाली बहुत ही स्वादिष्ट है ये दाल खिचड़ी       टेस्ट और हेल्थ दोनों के लिए स्नैक्स में बनाएं 'कैरट फ्रिटर्स'       राजस्थान की बेहद पॉपुलर ट्रेडिशनल डिश 'जैसलमेरी चना' है स्वाद का खजाना       खट्टा-मीठा स्वाद लिए हुए 'अंगूर का अचार' है बहुत ही टेस्टी और आसान       भुर्जी, स्क्रैम्बल एग से अलग आज सीखें 'मग ऑमलेट' बनाने की क्विक एंड ईजी रेसिपी       प्रोटीन रिच डाइट का बेहतरीन ऑप्शन है 'कॉलीफ्लॉवर चीज़'       डॉगी ने अपने दिव्यांग मालिक को कराई ऐसी सैर, देख आप कह उठेंगे OMG...       आपके अकाउंट में नहीं आई है सातवीं किस्त, तो यहां करें शिकायत; जानें क्या है प्रोसेस       अपने फोन से 10 मिनट में अपडेट करें अपना आधार कार्ड, जानिए ये आसान प्रॉसेस       PNB ग्राहक ध्यान दें, 1 फरवरी से इन ATM से नहीं निकाल पाएंगे पैसा       CLSS के तहत सब्सिडी, समयसीमा बढ़ाए जाने की मांग; अलग से टैक्स छूट भी चाहते हैं इंडस्ट्री के एक्सपर्ट       हेलमेट इंडस्ट्री की GST में कमी की मांग, EV इंडस्ट्री को चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर में निवेश की उम्मीद       रिजर्व बैंक ने कहा कि भारत की जीडीपी की वृद्धि दर सकारात्मक होने के बिल्कुल करीब