कंपनी ने किया कंफर्म, POCO TWS ईयरबड्स हिंदुस्तान में जल्द होगा लॉन्च       Geekbench पर हुआ लिस्ट, Honor 30 Pro Smart Phone Kirin 990 5G चिपसेट से होगा लैस       पांच नहीं अब सिर्फ एक चैट में कर पाएंगे मैसेज Forward, Whatsapp का बड़ा फैसला!       48MP रियर कैमरे के साथ Infinix Note 7 व Note 7 Lite लॉन्च       नए जीएसटी रेट से बढ़ गए सभी मोबाइल के दाम, लेकिन...       JIO ने 102GB Data वाला प्लान किया लॉन्च, जानें       30 जून तक बढ़ाई इस सस्ते प्लान की वैलिडिटी, लॉकडाउन के बीच BSNL का धांसू ऑफर!       48MP रियर कैमरे के साथ Infinix Note 7 व Note 7 Lite लॉन्च       भारतीय सर्टिफिकेशन साइट पर हुआ लिस्ट, Realme TV 43 इंच की स्क्रीन के साथ होगा लॉन्च       Huawei Nova 7 सीरीज 23 अप्रैल हो सकती है लॉन्च, जानें संभावित मूल्य       32+8MP डुअल सेल्फी कैमरे के साथ Vivo V19 लॉन्च       लॉकडाउन की वजह से टीवी देखने के समय में हुई 37 प्रतिशत की बढ़ोतरी, लेकिन...       चार रियर कैमरे व 5000 mAh बैटरी वाला Vivo Y50 लॉन्च       5000mah बैटरी के साथ Vivo Y50 लॉन्च, जानें मूल्य       बहुत कार्य का है गूगल से जुड़ा है WhatsApp का ये नया फीचर       कम मूल्य में लॉन्च हुआ Vivo का नया फोन, 5 कैमरे, 5000mAh की दमदार बैटरी       लॉकडाउन के बीच बढ़ी TikTok की दीवानगी       जल्द होने कि सम्भावना है लॉन्च, Samsung Galaxy A51 5G Wi-Fi सर्टिफिकेशन साइट पर हुआ लिस्ट       Apple बना रही फेस शील्ड, अमेरिका व चाइना में चल रहा है काम       Apple iPhone 9 लॉन्च से पहले वेबसाइट पर हुआ लिस्ट      

कोरोना वायरस को WHO ने दिया नया नाम, यहां जानें क्या कहेंगे इसे अब

कोरोना वायरस को WHO ने दिया नया नाम, यहां जानें क्या कहेंगे इसे अब

नई दिल्ली/बीजिंग: के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम ने बोला कि न्यू कोरोना वायरस (Coronavirus) से ग्रस्त निमोनिया को डब्ल्यूएचओ (WHO) ने सीओवीआईडी-9 नाम दिया है। उन्होंने बोला कि पहला टीका 18 महीनों के भीतर तैयार कर लिया जाएगा। न्यू कोरोना वायरस पर वैश्विक अध्ययन व नवाचार मंच की मीटिंग मंगलवार को जिनेवा में उद्घाटित हुआ जो कि बुधवार तक चला।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ट्रेडोस आशा जताई कि विभिन्न पक्ष संबंधित मुद्दों पर सहमति हासिल करेंगे व योजना बनाएंगे। उन्होंने बोला कि दुनिया स्वास्थ्य संगठन संसार भर के 400 से अधिक वैज्ञानिकों के साथ विचार-विमर्श कर रहा है।  

रोडमैप बनाना भी जरूरी है, जिससे संबंधित संगठनों को साफ दिशा दी जाएगी व सार्वजनिक स्वास्थ्य पर बड़ा असर पड़ेगा। ट्रेडोस ने बोला कि पहला टीका 18 महीनों के भीतर सामने आएगा। दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने मरीजों के उपचार व स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की रक्षा के लिए संबंधित सामग्रियों को विभिन्न राष्ट्रों में पहुंचाया है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय योगदान मजबूत करने की अपील भी की।


बढ़ रहा महामारी का खतरा, चीन की बढ़ सकती है परेशानी

बढ़ रहा महामारी का खतरा, चीन की बढ़ सकती है परेशानी

नई दिल्ली/बीजिंग: बीते कई दिनों से तीव्रता से बढ़ता जा रहा कोरोना का संक्रमण आज लोगों के लिए आफत बन गया है। हर दिन इस वायरस के कारण लाखों लोग संक्रमित हो रहे है। हर दिन इस वायरस से हजारों मौते हो रही है। इतना ही नहीं सरकार के अथक कोशिश के बाद भी अब तक इस बीमारी से लड़ने का कोई उपचार नहीं खोजा जा सका है। व आगे भी यह नहीं बोला जा सकता है कि इस वायरस से कब तक निजात मिल सकता है। वहीं चाइना में कोरोना के नये मामलों का सामने आना लगातार जारी है। इसमें लक्षण वाले व बिना लक्षण वाले दोनों तरह के मुद्दे हैं। ताजा जानकारी के अनुसार रविवार को कोरोना के 39 नये मुद्दे सामने आये जबकि शनिवार को 30 मामलों का पता चला था। चाइना के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने सोमवार को बताया कि देश में रविवार को बिना लक्षण वाले 78 कोरोना मामलों का पता चला है। जबकि एक दिन पहले ही इसी तरह के 47 मुद्दे पकड़ में आये थे। कोरोना की रोकथाम के लिए उठाये गये कठोर कदमों के बाद भी बाहर से आने वाले व बिना लक्षण वाले मामलों ने चाइना की चिंता बढ़ा दी है।

महामारी की वापसी का खतरा: बिना लक्षण वाले मामलों में मरीजों को भले ही कठिनाई ज्यादा न होती हो लेकिन वे दूसरे को संक्रमित करने में सक्षम होते हैं। एनएचसी के प्रवक्ता मी फेंग ने एक प्रेस कांफ्रेसमें बताया कि चाइना को सतर्क रहने के साथ इस महामारी की वापसी को हर हाल में रोकना होगा। चाइना में हाल के दिनों में बिना लक्षण वाले मिले 705 मामलों की निगरानी हो रही है। इनमें से आधे मुद्दे कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित हुबेई प्रांत के हैं। बिना लक्षण वाले मुद्दे पिछले एक हफ्ते से सामने आने से सरकार की चिंता बढ़ गई है। पिछले दो माह से लाकडाउन में रह रहे हुबेई के लोगों को आगामी 8 अप्रैल से शहर से बाहर जाने की छूट मिलने जा रही है। हालांकि इस प्रांत ने पिछले माह ही यात्रा संबंधी कुछ नियमों में ढील दी थी।

बंद रखी हैं अतंरराष्ट्रीय सीमाएं: चीन की खबर एजेंसी के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में मिले बिना लक्षण वाले कोरोना संक्रमितों के कारण 45 आवासीय परिसरों को 'महामारी मुक्त' श्रेणी से हटा लिया गया है। महामारी मुक्त परिसरों में रह रहे लोगों को दिन में दो घंटे के लिए घर से बाहर निकलने की छूट मिली हुई है। चाइना में अब तक इस बीमारी से 81,708 लोग संक्रमित हुए जबकि 3331 लोगों की मृत्यु हुई। कोरोना संक्रमण के कारण चाइना ने अपनी अतंरराष्ट्रीय सीमाएं बंद कर रखी हैं। पहली अप्रैल से विदेश से आने वाले हर आदमी की जाँच हो रही है।