जर्मनी की युवती बनी बिहार की बहू,2 महीने में हिंदी सीखने का वादा

जर्मनी की युवती बनी बिहार की बहू,2 महीने में हिंदी सीखने का वादा

पढ़ाई के दौरान जर्मनी की महिला और बिहार के सहरसा के पुरुष में नजदीकियां बढ़ीं. फिर प्यार हुआ. उसने विवाह का प्रस्ताव रखा, जिसे लड़के के परिवार वालों से स्वीकार कर लिया. अब दोनों की मिथिला परंपरा से विवाह हुई. महिला की मां पोलैंड की रहने वाली है. वह भी विवाह में आई हुई थीं.

इस विवाह की पूरे क्षेत्र में काफी चर्चा हो रही है. विवाह हिन्दू रीति-रिवाज के मुताबिक हुई. विवाह में जर्मनी की लड़की की मां, बहन के अतिरिक्त एक सम्बन्धी भी उपस्थित दिखे. विवाह जिले के पटुआहा स्थित आम गाछी में सम्पन्न हुआ. विवाह के समय दुल्हन ने वादा किया कि वह दो से तीन महीने में हिंदी सीख लेगी. महिला को अंग्रेजी, जर्मनी समेत 8 भाषाएं आती हैं.

30 नवंबर बुधवार को हुई शादी.

जर्मनी की रहने वाली है मार्था, 8 भाषाएं आती हैं

दूल्हा राजा चैतन्य सहरसा जिले के पटुआहा गांव का रहने वाले हैं, तो वहीं दुल्हन मार्था जर्मनी की रहने वाली हैं. दोनों की दोस्ती जर्मनी में ही हुई. दोनों जर्मनी में पीएचडी कर रहे थे. दूल्हे के चाचा ध्रुव झा ने बताया कि चैतन्य झा की शुरुआती पढ़ाई-लिखाई सहरसा में ही हुई है. फिर चैतन्य ने शिलॉन्ग से बीटेक करने के बाद बेल्जियम से मास्टर की डिग्री हासिल किया. यहां से पीएचडी करने को लेकर जर्मनी चले गए.

जर्मनी में ही पढ़ाई के दौरान दोनों की दोस्ती हुई थी.

मिथिला परंपरा के मुताबिक हुई शादी

पढ़ाई के दौरान जर्मनी की लड़की मार्था मिली. वह भी पीएचडी कर रही थी. दोनों में दोस्ती हुई. दोस्ती के दौरान ही लड़की के ने विवाह का का प्रस्ताव आया. दोनों परिवार वालों की रजामंदी से मिथिला परंपरा के मुताबिक दोनों की विवाह हुई. मार्था पोलैंड के वारसा निवासी ओरलोवस्का की पुत्री हैं.

दुल्हन मार्था को आठ भाषाएं आती हैं.

पूरे गांव में हो रही है चर्चा

चाचा ध्रुव झा ने ये भी बताया कि मार्था हिंदी कहना नहीं जानती है, लेकिन मार्था ने बताया की दो-तीन महीने में हिंदी सीख लेगी और हिंदी में भी बात करने का भरोसा दिलाया है. वहीं पटुआहा के मुखिया मुकेश झा ने बताया कि विवाह हिन्दू रीति-रिवाज के मुताबिक हुआ है. विवाह में सिंदूरदान और लावा भुजने का विध होता है. विधि-विधान के द्वारा विवाह की रस्म अदा की गई. इस विवाह को लेकर पूरे गांव में चर्चा हो रही है.

दोनों परिवार की रजामंदी से हुई शादी.

पूरे क्षेत्र में हो रही है विवाह की चर्चा.