बच्चों के इस पाउडर की बिक्री जल्द होगी बंद

बच्चों के इस पाउडर की बिक्री जल्द होगी बंद

अमेरिकी फार्मास्युटिकल कद्दावर जॉनसन एंड जॉनसन ने गुरुवार को अहम घोषणा की कंपनी ने बताया कि वह 2023 में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने विवादास्पद टैल्क-आधारित बेबी पाउडर की बिक्री बंद कर देगी कंपनी द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में अपनी बिक्री को रोकने के दो वर्ष बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उत्पाद की बिक्री बंद करने की घोषणा की गई है कंपनी ने एक बयान में बोला कि वह टैल्क-आधारित पाउडर से कॉर्नस्टार्च-आधारित बेबी पाउडर की ओर बढ़ रही है

इस पाउडर को लेकर 38 हजार से अधिक शिकायत

रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी अमेरिका और कनाडा में वर्ष 2020 में ही टैल्क बेस्ड बेबी पाउडर की बिक्री बंद कर चुकी है बता दें कि कंपनी के विरूद्ध करीब 38,000 मुकदमा चल रहे हैं, जिसमें कई स्त्रियों का बोलना है कि इस बेबी पाउडर को यूज करने के बाद उन्हें ओवेरियन कैंसर की परेशानी हो गई अमेरिकन रेग्युलेटर्स ने भी दावा किया था कि उन्हें कंपनी के बेबी पाउडर में कैंसर (Cancer) पैदा करने वाले तत्व मिले हैं हालांकि, कंपनी ने इन आरोपो का खंडन किया था कंपनी ने बोला था कि उसने उत्तरी अमेरिका में इस प्रोडक्ट को बिक्री में गिरावट के चलते हटाया था 

कंपनी ने कैंसर की बात को किया खारिज

वहीं कंपनी का इस पूरे मुद्दे में बोलना है कि “दुनिया भर में पोर्टफोलियो मूल्यांकन के अनुसार हमने सभी स्थान अब कॉर्नस्टार्च-आधारित बेबी पाउडर को पोर्टफोलियो में शामिल करने का पैसला किया है इसके अनुसार अब 2023 में टैल्क आधारित पाउडर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बंद कर दिए जाएंगे” कंपनी ने फिर दोहराया है कि उनका यह प्रोडक्ट सुरक्षित है इससे कैंसर नहीं होता है

टैल्क का गणित भी समझें

एक्सपर्ट बताते हैं कि जॉनस एंड जॉनसन बेबी पाउडर में जो टैल्क यूज करती है वो दुनिया के सबसे सॉफ्ट मिनरल में से एक है इसका निर्माण कई राष्ट्रों में किया जाता है पेपर, प्लास्टिक्स और फार्मास्यूटिकल्स सहित कई दूसरी इंडस्ट्रीज में भी यह यूज होता है एक्सपर्ट की मानें तो कई बार इसमें एसबस्टस (asbestos) मिल जाता है जिससे कैंसर की स्थिति बनती है