बाउंसर से हेलमेट टूटने के बाद भी शाहिदी ने बैटिंग जारी रखी; कहा...

बाउंसर से हेलमेट टूटने के बाद भी शाहिदी ने बैटिंग जारी रखी; कहा...

दुनिया कप क्रिकेट 2019 में मंगलवार को इंग्लैंड व अफगानिस्तान के बीच मैच खेला गया. अफगानिस्तान 397 के लक्ष्य का पीछा कर रहा था. उनके स्टार बल्लेबाज हसमतउल्लाह शाहिदी विकेट पर थे. इसी दौरान उनके हेलमेट पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड का बाउंसर लगा. गेंद इतनी तेज थी की शाहिदी का हेलमेट ही टूट गया. चिकित्सक मैदान पर पहुंचे. उन्होंने शाहिदी को आगे बैटिंग न करने की सलाह दी. लेकिन, शाहिदी ने कहा- मैं बैटिंग जारी रखूंगा क्योंकि मेरे साथियों को वैसे मेरी आवश्यकता है.

लोगो के ऊपर लगी गेंद
इंग्लैंड ने कैप्टन इयॉन मॉर्गन की तूफानी पारी की बदौलत 50 ओवर में 396 रन का विशाल स्कोर बनाया. अफगानिस्तान जैसी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की नयी टीम के लिए यह बहुत कठिन लक्ष्य था.मेजबान टीम इंग्लैंड का गेंदबाजी आक्रमण भी धारदार है. इसके बावजूद अफगान बल्लेबाजों ने हौसले के साथ इस लक्ष्य को पाने की पुरजोर प्रयास की. हसमतउल्लाह ने 76 रन बनाए. इसी दौरान, मार्क वुड की 90 मील प्रतिघंटे की गति वाली एक गेंद को वो हुक करने गए. लाइन मिस कर गए व गेंद उनके हेलमेट पर लोगो के अच्छा ऊपर लगी. हेलमेट में दरार आ गई. शाहिदी भी नीचे गिर गए.आईसीसी व अफगानिस्तान टीम के चिकित्सक मैदान पर पहुंचे. उन्होंने प्राथमिक निरीक्षण के बाद शाहिदी को सलाह दी कि इस मैच में आगे बल्लेबाजी न करें.

परिवार मैच देख रहा था

शाहिदी ने मैच के बाद कहा, “आईसीसी व मेरी टीम के चिकित्सक आए. उन्होंने कहा, आपका हेलमेट बीच से टूट गया है। आप पवेलियन चलिए. मैंने कहा- मैं इस वक्त अपनी टीम को नहीं छोड़ सकता. मेरा परिवार मैच देख रहा है. बड़ा भाई तो स्टेडियम में ही उपस्थित है. मैं नहीं चाहता कि वो मुझे लेकर फिक्रमंद हों.” अफगान टीम मैनेजमेंट के एक मेम्बर नवीद के मुताबिक, “डॉक्टरों ने शाहिदी से बोला कि वो फौरन मैदान छोड़ दें. लेकिन उन्होंने बोला कि मैं बिल्कुल अच्छा हूं व बैटिंग जारी रखूंगा.”

अमला के हेलमेट पर भी लगी थी गेंद
इसी दुनिया कप में व इसी टीम यानी इंग्लैंड के विरूद्ध दक्षिण अफ्रीकी ओपनर हाशिम अमला के हेलमेट पर भी जोफ्रा आर्चर का बाउंसर लगा था. अमला पवेलियन लौट गए थे. जब टीम की हालत खस्ता दिखी तो आखिर में बैटिंग के लिए आए लेकिन कुछ खास नहीं कर पाए. वो अगले मैच में नहीं खेले थे.