'बच्चियों को यौन हिंसा का शिकार बनाने वालों को कठोर सजा देना जरूरी' : मायावती

'बच्चियों को यौन हिंसा का शिकार बनाने वालों को कठोर सजा देना जरूरी' : मायावती

नई दिल्ली: की अध्यक्ष मायावती ने कठुआ दुष्कर्म मुद्दे के दोषियों को न्यायालय द्वारा कठोर सजा सुनाये जाने के बाद, मंगलवार को उम्मीद जतायी है कि इससे आपराधिक प्रवृत्ति वालों में भय पैदा होगा। उन्होंने बोला कि देश में सभी स्थान इस तरह के मामलों में दोषियों को कठोर सजा देने की आवश्यकता है।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, 'अदालत द्वारा कठुआ की मासूम बच्ची से दुष्कर्म व फिर मर्डर के मुद्दे में तीन दोषियों को उम्रकैद व तीन अन्य को पांच वर्ष कैद की सजा देने के बाद, संभव है कि लोगों में कानून का कुछ भय पैदा हो व वे दरिन्दगी से बाज आए। '

उल्लेखनीय है कि जम्मू और कश्मीर के कठुआ में आठ वर्षीय खानाबदोश लड़की से सामूहिक दुष्कर्म व मर्डर के सनसनीखेज मुद्दे में तीन मुख्य दोषियों को सोमवार को पठानकोट स्थित न्यायालयने आजीवन जेल की सजा सुनाई जबकि साक्ष्यों को नष्ट करने के जुर्म में तीन अन्य को पांच साल कैद की सजा सुनाई।

मायावती ने कहा, ‘‘कानून द्वारा कानून का राज कायम करने हेतु देश में हर स्थान ऐसी सज़ायें देना महत्वपूर्ण लगता है। ’’