पूर्व मंत्री हरिवंश सहाय को श्रद्धांजलि देते सांसद रविन्द्र कुशवाहा

पूर्व मंत्री हरिवंश सहाय को श्रद्धांजलि देते सांसद रविन्द्र कुशवाहा

देवरिया में सपा के दिग्गज नेता रहे पूर्व मंत्री और सांसद हरिवंश सहाय की तेरहवीं में आए बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राज्य सभा सांसद लक्ष्मी कांत बाजपेई ने पूर्व सांसद के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की. दैनिक मीडिया से वार्ता में नवनिर्वाचित राज्य सभा सांसद लक्ष्मी कांत बाजपेई ने बोला कि प्रदेश में हो रहे दोनों उपचुनावों के संबन्ध में बोला कि कोई भी पार्टी चुनाव जीतना चाहती है. यह उप चुनाव ऐसा है कि किसी भी गवर्नमेंट या विपक्ष पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. आजम खान के बयान कि इस रामराज्य से औरंगजेब का राज्य ही अच्छा था के प्रश्न पर लक्ष्मी कांत बाजपेई ने बोला कि आदरणीय आजम खां का बयान मुसलमान तुष्टिकरण का परिचायक है. राजनैतिक दलों में चाहें कितना भी मतभेद रहा हो लेकिन किसी विदेशी राजा और किसी आक्रांता का पृष्ठ पोषण कर रहे हों यह उचित नहीं है और निंदनीय है उनके लिए.

स्वतंत्र है न्यायालय

आजम खां के बयान कि मुसलमानों को दबाया जा रहा है. उन्हें बकरी चोरी, पुस्तक चोरी जैसे मामलों में कारागार भेज दिया गया के ज़बाब में पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने बोला मामला कोर्ट में विचाराधीन है. किसी राजनैतिक गवर्नमेंट ने गलती की है तो कोर्ट स्वतंत्र है फैसला आना चाहिए. इतने दिनों तक वे क्यों नहीं फैसला पा सके.

मीडिया से वार्ता करते नव निर्वाचित राज्य सभा सांसद लक्ष्मीकांत बाजपेई"

दैनिक मीडिया से वार्ता करते नव निर्वाचित राज्य सभा सांसद लक्ष्मीकांत बाजपेई

उपचुनाव में नहीं आते पार्टियों के राष्ट्रीय अध्यक्ष

वहीं पूर्व मंत्री को श्रद्धांजलि देने पहुंचे पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी गवर्नमेंट पर हमला बोलते हुए बोला कि दो उपचुनाव हैं रामपुर और आजम गढ़ दोनों लंबे समय से परम्परागत रूप से सपा की सीटें रही हैं. जनता दोनों स्थान सपा जीत रही है. अखिलेश यादव के प्रचार में नहीं उतरने को लेकर स्वामी प्रसाद मौर्य ने बोला कि आमतौर पर उपचुनाव में पार्टियों के राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं आते हैं. प्रत्याशी घोषणा में आजमगढ़ भी गए और रामपुर भी गए.

अग्निपथ योजना पर गवर्नमेंट को घेरा
आजम खान के औरंगजेब वाले बयान पर स्वामी प्रसाद मौर्य ने बोला योगी गवर्नमेंट में आजम खान जैसे नेता को मुर्गी चोरी, बकरी चोरी, भैंस चोरी जैसे मामलों में 27 महीने कारागार में रखा. आजम खान की पीड़ा स्वाभाविक है. सेना की नयी भर्ती के बारे में उन्होंने बोला कि युवाओं का आक्रोश बता रहा है कि यह अव्यवहारिक है युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ भी है.17 वर्ष में भर्ती 21 वर्ष में रिटायर.4 वर्ष बाद यह गवर्नमेंट उनको और उनके परिवार वालों को सड़क किनारे कटोरा लेकर भीख मांगने के लिए परिस्थितियां पैदा कर रही है. यदि अग्नि वीर सेना की भर्ती होनी ही है तो सेना के अन्य सैनिकों का कार्यकाल है, पेंशन है, ग्रेच्युटी है, सुविधाएं हैं. सैनिक अस्पतालों में निःशुल्क प्रबंध है. यह सबकुछ होना चाहिए. इस गवर्नमेंट की नीति है पहले नौजवानों को बेरोजगार बनाओ और बेरोजगारी का लाभ उठाकर आऊट सोर्सिंग भर्ती के माध्यम से जॉब देने की झूठी वाह वाही लूटो.

पूर्व मंत्री की तेरहवीं में टूटी दलीय सीमाएं, सभी दलों के दिग्गज पहुंचें
पूर्व मंत्री और सलेमपुर से सांसद रहे हरिवंश सहाय के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में विश्वंभर पुर में सलेमपुर से लोकसभा चुनाव में बसपा-सपा के संयुक्त प्रत्याशी रहे आर एस कुशवाहा, फाजिल नगर के पूर्व विधायक गंगा सिंह कुशवाहा, पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह खोखा, जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश तिवारी, सांसद रविन्द्र कुशवाहा, दर्जा प्राप्त मंत्री नीरज शाही, विधायक सुरेंद्र चौरसिया, विधायक शलभ मणि त्रिपाठी, विधायक दीपक मिश्र शाका, विधायक सभा कुंवर कुशवाहा, ब्लॉक प्रमुख अमरेश सिंह बबलू, प्रमुख प्रतिनिधि अमित सिंह बबलू, राज्य मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम, समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष डॉ दिलीप यादव, डॉ टीपी सिंह, यूपी लोकसेवा आयोग के पूर्व सदस्य से सेवा निवृत न्यायाधीश दिनेश सिंह, जिला जज मऊ अशोक कुमार और डॉ अरविंद सहाय उपस्थित रहे.


भिखारी के रूप में घूम रहे एक बुजुर्ग की पहचान हुई गुजरात के सेवानिवृत्त प्रबंधक के रूप में

भिखारी के रूप में घूम रहे एक बुजुर्ग की पहचान हुई गुजरात के सेवानिवृत्त प्रबंधक के रूप में

एटा में भिखारी के रूप में घूम रहे एक बुजुर्ग की पहचान गुजरात के सेवानिवृत्त प्रबंधक के रूप में हुई है. उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं बताई जा रही. पुलिस ने उन्हें कोतवाली नगर में रखा है. उनके गृह जनपद में परिजनों को टेलीफोन कर जानकारी दी गई है. कई दिन से एक आदमी रोडवेज बस स्टैंड के आसपास भीख मांगकर पेट भरता था. रविवार को उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो उसे गुजरात के लोगों ने पहचान लिया. इसके बाद क्षेत्रीय पुलिस को सूचना दी. 

बुजुर्ग ने परिजनों के बारे में दी जानकारी 

पुलिस बुजुर्ग को थाने ले आई. पूछताछ में बुजुर्ग ने अपने घर का पता और परिजन की जानकारी और टेलीफोन नंबर बताए. जिस पर पुलिस ने टेलीफोन कर जानकारी दी. कोतवाली नगर प्रभारी रामेंद्र शुक्ला ने बताया कि एक बुजुर्ग आदमी के बारे में जानकारी मिली. बस स्टैंड पहुंचकर उन्हें थाने लाए. वह मानसिक रूप से बीमार प्रतीत हो रहे हैं. वार्ता करने के दौरान पता लगा कि वह बैंक मैनेजर पद से सेवानिवृत्त हैं. 

दो अप्रैल से थे लापता  

सेवानिवृत्त प्रबंधक द्वारा बताए गए पते पर गुजरात के जनपद नवसारी थाना क्षेत्र के गांव चिखली में संपर्क किया गया. बताया गया कि वह लापता हो गए थे. 2 अप्रैल 2022 को उनकी गुमशुदगी वहां थाने में दर्ज कराई गई है. वह गुजरात से एटा कैस पहुंचे, यह अभी पता नहीं चल सका है. बुजुर्ग के भाई ने उनका नाम दिनेश कुमार और फिर दीनू भाई पटेल बताया है. परिजन गुजरात से एटा के लिए रवाना हो गए हैं.