रिश्तों को दिया एक और मौका, इन लोगों की जिंदगी में फिर लौटी खुशी

रिश्तों को दिया एक और मौका, इन लोगों की जिंदगी में फिर लौटी खुशी

झाँसी: जरा सी बात पर दरकते रिश्ते और टूटते परिवारों को जोड़ने के साथ ही पति-पत्नी के रिश्तों की डोर बंधी रहे। कुछ ऐसे ही उद्देश्य को लेकर महिला थाने की पुलिस ने ‘बिखरते रिश्तों को संवारने’ के लिए परिवार परामर्श केंद्र का आयोजन किया। इसमें सात परिवारों को बुलाया गया। इसमें चार परिवार आपस में साथ रहने को राजी हो गए। परिवार परामर्श केंद्र में सभी को मिलजुल कर रहने का संकल्प लिया गया।

आठ माह में ही रिश्तों में आयी दरार
परिवार परामर्श केंद्र में कुछ दिनों पहले का एक ऐसा प्रकरण पहुंचा कि लोग दंग रह गए। मामूली सी बात पर दूल्हा ने दुल्हन को थप्पड़ जड़ दिया, जिससे दुल्हन के गाल पर उंगलियों के निशान बन गए। समझौता शुरु हुआ तो दूल्हा पक्ष ने तर्क दिया कि सालियों ने भद्दा मजाक किया, जिससे लड़का नाराज हो गया। जिससे दोनों के बीच रिश्तों में दरार आ गई। बाद में दोनों पक्षों को समझाया गया। दोनों एक दूजे के साथ रहने को राजी हो गए।

एक ही शहर में किराए पर पति-पत्नी
शहर में एक शिक्षक के परिवार के बीच रिश्तों में मामूली कहासुनी को लेकर दरार आ गयी। जिससे दोनों शहर में ही किराए के मकान में अलग- अलग रहने लगे। चार साल के बच्चे के साथ पत्नी अलग रहने गी। जबकि पति शिक्षक अलग रहता था। मामला परिवार परामर्श केंद्र में पहुंचा तो परामर्श केंद्र में मौजूद स्टॉफ ने समझाइश के बाद दोनों एक साथ रहने को राजी हो गए।

किचेन में रहने को कहते हैं…
ससुराल के लोग गर्भवती महिला को किचेन में रहने को कहते हैं। जिससे पति-पत्नी के बीच रिश्तों में दरार आ गई। गर्भवती महिला मायके रहने लगी। समझाइश के बाद दोनों परिवार एक दूसरे के साथ रहने को राजी हुए।

मेडम! पति कहता है प्रेमिका से निकाह करुंगा, तुम्हें दे दूंगा तलाक
मेडम! पति साथ में नहीं रखता है। मासूम बेटी के साथ मां के घर रह रही हूं। वो कहते है कि अब प्रेमिका के साथ निकाह करेंगे। प्रेमिका भी निकाह करने को तैयार है। मुझे तलाक देने का बोलते हैं। कहते है परिजन ने जबरदस्ती तुमसे मेरा निकाह कराया है।

दामाद बोलता है दहेज का सामान ले जाओ
साथ में पहुंची मां ने पुलिस को बताया समझाने के लिए दामाद से बात करती हूं तो वह कहता है घर आकर दहेज का सामान ले जाओ। वह बेटी को साथ नहीं रखना चाहता है। बेटी की एक साल पहले ही शादी हुई है, मासूम बच्चा भी है। फिर भी वह नहीं रख रहा है। कुछ समय से बेटी मायके में ही रह रही है।

सात में चार में हुआ समझौता
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी के निर्देशन में महिला थाना में परिवार परामर्श केंद्र का आयोजन किया गया। इस केंद्र में सात मामले सामने आए। इनमें चार में समझौता हो गया। केंद्र में महिला थाना प्रभारी निरीक्षक पूनम शर्मा, उपनिरीक्षक पूनम वर्मा, महिला हेड कांस्टेबल उमा अहिरवार, महिला आरक्षक प्रतिमा, नीतू पाल आदि लोग उपस्थित रहे है।


तमिलनाडु चुनाव से पहले बड़ा फैसला, शशिकला ने छोड़ी राजनीति, संन्यास का एलान

तमिलनाडु चुनाव से पहले बड़ा फैसला, शशिकला ने छोड़ी राजनीति, संन्यास का एलान

तमिलनाडु की सियासत में बीते कई दिनों से शशिकला के राजनीतिक सफर को लेकर चल रही अटकलों के बीच आज बड़ी खबर आई है। तमिलनाडु की छोटी अम्मा शशिकला ने राजनीति से संन्यास लेने का एलान कर दिया है। बता दें कि हाल ही में शशिकला 4 साल की कैद की सजा पूरी कर जेल से आजाद हुई हैं। जिसके बाद से माना जा रहा था कि शशिकला दोबारा राजनीति में सक्रिय हो सकती हैं और आगामी चुनावों में बड़ी भूमिका में नजर आ सकती है। लेकिन उन्होंने इन सबकी अफवाहों पर विराम लगा दिया।

शशिकला ने राजनीति से लिया संन्यास
5 दिसंबर 2016 को तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद शशिकला का सीएम बनना तय था। शशिकला ने सबसे पहले उस व्यक्ति से इस्तीफा लिया, जिसे जयललिता ने जीते जी अपनी जगह बिठाया था।

जयललिता के निधन के बाद शशिकला का सीएम बनना था तय
बाद में 6 फरवरी को अन्नाद्रमुक के विधायकों ने पार्टी महासचिव वीके शशिकला को विधायक दल का नेता चुन लिया। इससे 62 वर्षीय शशिकला के तमिलनाडु की तीसरी महिला मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ हो गया। कहा जा रहा था कि तमिलनाडु की पहली महिला सीएम जानकी रामचंद्रन, दूसरी जयललिता के बाद तीसरी महिला सीएम शशिकला बनेंगी।

शशिकला के नाम का प्रस्ताव मौजूदा मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने इस्तीफा देकर प्रस्तावित किया था जिसे सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ जाने से उनका यह सपना अधूरा रह गया। शशिकला के ही आशीर्वाद से ई पलानीस्वामी (ईपीएस) मुख्यमंत्री बने और ओ पनीरसेल्वम (ओपीएस) डिप्टी सीएम बने थे।

4 साल की कैद के बाद जेल से शशिकला की रिहाई
शशिकला को चार साल की कैद के बाद जनवरी में परप्पाना अग्रहारा केंद्रीय जेल से रिहा किया गया है। उन्हें 14 फरवरी, 2017 को बेनामी संपत्ति के मामले में दोषी ठहराया गया था और 10 करोड़ रुपये का जुर्माना देने के बाद रिहा कर दिया गया। अगर वह 10 करोड़ रुपये का जुर्माना नहीं भरतीं तो उन्हें 13 महीने और जेल में काटने पड़ते।

बेनामी संपत्ति के इस मामले में पहली आरोप जयललिता थीं। उन दिनों शशिकला को सोने की देवी कहा जाता था। चर्चा यहां तक रही कि जब इनके घर में छापा पड़ा तो सुरंग खोदकर सोना निकाला गया था।


‘Aruvi’ के हिन्दी रीमेक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख, कहा...       Virat Kohli अनुष्का शर्मा की हाइट को लेकर थे परेशान, जानें       Shweta Tiwari पलक तिवारी और रेयांश के साथ आई नजर       सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आएंगी रश्मिका मंदाना, Mission Majnu की शूटिंग लखनऊ में हुई शुरू       इस एक्टर के निधन की ख़बर सुनकर इसलिए सुन्न पड़ गये थे अभिषेक कपूर       Saif Ali Khan ने कोविड-19 वैक्सीन की ली डोज       इस एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड ने खेल मंत्री किरण रिजिजू से आयकर छापे मामले में मांगी मदद       क्या ‘इंडियन आइडल 12’ बंद होने जा रहा है? शो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा       जेपी दत्ता और बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि जयपुर में कर रहीं शादी       ‘Liger’ का गोवा शेड्यूल हुआ पूरा, इस एक्ट्रेस ने शेयर किए पार्टी के फोटो       आज है श्री राम की भक्त माता शबरी की जयंती, जानें       आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा       भगवान शिव ने स्वयं बताई है महाशिवरात्रि व्रत की महिमा, जानें       कैसे हुई थी माता शबरी की प्रभु श्री राम से मुलाकात       मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को जरुर करें ये उपाय       इस महाशिवरात्रि करें ये दो कार्य, आप पर होगी भगवान शिव की कृपा       कालाष्टमी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       भगवान शिव ने क्यों लिया अर्धनारीश्वर अवतार, हमारे और आप से जुड़ा है कारण       क्या है कुंभ मेले में शाही स्नान का महत्व, विशेष फल की होती है प्राप्ति       कर्क राशि वालों को आर्थिक मामलों में सफलता मिलेगी, धन, यश और कीर्ति में वृद्धि होगी