केरल में निपाह का खतरा बरकरार, इलाज करा रहे मरीज में दिखे लक्षण

केरल में निपाह का खतरा बरकरार, इलाज करा रहे मरीज में दिखे लक्षण

केरल में निपाह वायरस का खतरा अभी बरकरार है। कोझीकोड जिले में निपाह वायरस से 12 वर्षीय एक बच्चे की मौत के एक हफ्ते से भी अधिक समय बाद मंगलुरु में एक अस्पताल में इलाज करा रहे व्यक्ति के संक्रमित होने का संदेह है। ऐसे में उसके नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

संदिग्ध मामले को नहीं किया जा सकता नजरअंदाज

अधाकिरियों ने बताया कि यह केवल एक संदिग्ध मामला है, लेकिन इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। साथ ही बताया कि संदिग्ध व्यक्ति कारवार का मूल निवासी है और गोवा में आरटी-पीसीआर परीक्षण किट निर्माण इकाई में काम करता है। उनके नमूने पुणे में नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलाजी को जांच के लिए भेजे गए हैं और परिणाम का इंतजार किया जा रहा है।

परिवार के सदस्यों को आइसोलेशन में रखा गया

वहीं इस व्यक्ति के परिवार के सदस्यों को आइसोलेशन में रखा गया है। इसके साथ ही अधिकारी ने बताया कि नमूने को जांच के लिए भेजे जाने तक मरीज में गंभीर लक्षण नहीं दिखे थे। उडुपी और कारवार के जिला प्रशासन भी इस मामले में सतर्क हैं।


केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जार्ज ने कुछ दिन पहले बताया था कि निपाह वायरस के संक्रमण का पता लगाने के लिए 17 और सैंपल की जांच की गई। इनके नतीजे नेगेटिव आए हैं। मंत्री के मुताबिक, 'इन 17 सैंपल में से पांच को पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलाजी में भेजा गया वहीं 12 सैंपल की टेस्टिंग कोझीकोड के गर्वंमेंट मेडिकल कालेज हास्पिटल में विशेष तौर से बनाए गए लैब में की गई। इसके साथ ही 140 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।'

कोझीकोड में निपाह वायरस का पहला मामला आते ही निपाह वायरस के लिए तेजी से टेस्टिंग की गई। 12 साल के बच्चे की मौत के बाद अब तक बच्चे के संपर्क में रहने वाले करीबी लोग जैसे उसके माता-पिता और स्वास्थ्यकर्मी के सैंपल की जांच की गई और उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। निपाह वायरस के संक्रमण के कारण हुई बच्चे की मौत के बाद राज्य सरकार के निर्देश पर उसके घर के आस-पास तीन किलोमीटर के दायरे में सैंपल एकत्रित कर जांच की गई है।


केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 30,570 नए मामले आने से अब तक संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़कर 3,33,47,325 हो गई। इन नए मामलों में 22,182 मामले अकेले केरल में दर्ज किए गए। इस दौरान देश में कोरोना से 431 लोगों की मौत भी हुई जिसमें से 182 मौतें केरल में दर्ज की गईं। गुरुवार को शाम सात बजे तक 58.26 लाख टीके लगाए गए।

देश में कोरोना के मामले 4 दिन बाद फिर बढ़ गए हैं। लगातार चौथे दिन तक कोरोना के केस में कमी देखी जा रही थी। रोजाना 30 हजार से कम मामले दर्ज किए जा रहे थे, लेकिन गुरुवार सुबह नए कोविड केस फिस 30 हजार से ज्यादा दर्ज किए गए। 

केरल में फिर बढ़े मामले

वहीं देश में अभी 50 फीसदी से ज्यादा मामले केरल से आ रहे हैं। गुरुवार सुबह कोरोना के 17,681 नए मामले केरल से सामने आए। महामारी से 208 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 44 लाख 24 हजार 46 हो गए और मृतकों की संख्या 22,987 पर पहुंच गई। यहां संक्रमण दर 18 फीसद से ज्यादा है। वहीं गुरुवार शाम को केरल में गुरुवार शाम को 22,182 नए मामले सामने आए हैं। 26,563 लोग ठीक हो रहे हैं और 178 लोगों की मौत हुई है।

तेजी से हो रहा वैक्सीनेशन

देश में वीकली पाजिटिविटी रेट की बात करें तो यह 1.93फीसद है। पिछले 83 दिनों से ये 3 प्रतिशत से नीचे है। डेली पाजिटिविटी रेट 1.94 प्रतिशत है जो कि पिछले 17 दिनों से 3 प्रतिशत से नीचे है। पिछले 24 घंटे में 58.26 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हुआ। अब तक कुल 77.10 करोड़ वैक्सीनेशन हो चुका है।

स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी

देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई और तेज हो गई है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने रूस की स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी दे दी है। बता दें कि यह सिंगल डोज वैक्सीन है जिसके बाद दूसरे डोज की जरूरत नहीं होगी। भारत में अभी जितनी भी वैक्‍सीन लगाई जा रही हैं उनकी दो डोज लगवानी पड़ती है।

देश में कोरोना की स्थिति

कोरोना/वैक्सीन मीटर (आंकड़े टैली फारमेट के लिए) ------- भारत, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

24 घंटे में नए मामले- 30,570

कुल सक्रिय मामले- 3,42,923

24 घंटे में टीकाकरण- 58.26 लाख

कुल टीकाकरण- 77.10 करोड़

गुरुवार सुबह 08:00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले- 30,570

कुल मामले- 3,33,47,325

सक्रिय मामले- 3,42,923

मौतें (24 घंटे में)- 431

कुल मौतें- 4,43,928

ठीक होने की दर- 97.64 फीसद

मृत्यु दर- 1.33 फीसद

पाजिटिविटी दर- 1.94 फीसद

सा.पाजिटिविटी दर- 1.93 फीसद

जांचें (बुधवार)- 15,79,761

कुल जांचें- 54,77,01,729