आखिरऐसा क्या हुआ की स्टेडियम में फुटबॉल देखने गई महिला ने खुद को लगाई आग

आखिरऐसा क्या हुआ की स्टेडियम में फुटबॉल देखने गई महिला ने खुद को लगाई आग

ईरान की राजधानी तेहरान में एक महिला फुटबॉल फैन की भयावह मृत्यु हुई है. महिला फैन वेश बदलकर फुटबॉल मैच देखने स्टेडियम पहुंची थी जहां उसे हिरासत में ले लिया गया था. इसके बाद महिला ने भय से खुद को आग लगा लीष दरअसल ईरान में स्त्रियों के स्टेडियम में घुसने पर पाबंदी है.अगर कोई महिला स्टेडियम में घुसती है तो उसे छह महीने की कारागार की सजा मिलती है. मृतक महिला भी पुरुषों का वेश बनाकर स्टेडियम में घुसी थी लेकिन उसे पुलिस ने पहचान लिया व हिरासत में ले लिया.

ईरान की न्यायपालिका को एक महिला फुटबॉल प्रशंसक की मृत्यु की जाँच करने के लिए बोला गया है. वहां कि मीडिया ने बोला है कि महिला ने खुद को इसलिए आग लिया, क्योंकि वह छह महीने की कारागार की सजा काटने से से भय गई थी.

ईरान के एक अखबार के अनुसार महिला व परिवार के मामलों के ईरान के उपाध्यक्ष मसूयमेह एबटेकर ने न्यायपालिका प्रमुख को एक लेटर में लिखकर इस मुद्दे को देखने के लिए बोला है.

मालूम हो कि मृतक ईरानी महिला का नाम साहर खोदायरी था. जो 29 वर्ष की थीं. उनकी मृत्यु के बाद ईरान में उनका नाम ट्विटर पर खासा ट्रेंड हुआ था. साहर खोदायरी 90 प्रतिशत जल गई थीं.खोदायरी के परिजनों ने उनकी मृत्यु के बाद बताया कि वो मानसिक तौर पर बीमार थीं व उन्होंने पिछले एक वर्ष से दवाइयां लेनी भी बंद कर दी थी.
खोदायरी को पिछले वर्ष हिरासत में लिया गया था, जब वह अपनी पसंदीदा टीम एस्टेगल एफसी का कै मैच देखने के लिए एक स्टेडियम में जाने की प्रयास की थी.

मालूम हो कि FIFA ईरान के अधिकारियों के साथ स्टेडियम में स्त्रियों के घुसने पर बैन हटाने की प्रयास कर रहा है. ईरान में 1979 से स्त्रियों के स्टेडियम में घुसने पर बैन लगा हुआ है.