इंटर मिलान ने जुवेंटस को मात देकर हासिल की जीत

इंटर मिलान ने जुवेंटस को मात देकर हासिल की जीत

इंटर मिलान ने अतिरिक्त समय तक खिंचे फाइनल में युवेंटस को 4-2 से हराकर इटालियन कप फुटबॉल प्रतियोगिता का खिताब भी अपने नाम कर लिया है. इवान पेरिसिच ने इंटर की तरफ से अतिरिक्त समय में 2 गोल दाग दिए थे. जिसके पूर्व हाकेन कलहानोग्लु ने नियमित वक़्त में अंतिम क्षणों में विवादास्पद पेनल्टी को गोल में बदलकर इंटर को बराबरी भी दिला दी है.  जिसके पूर्व पहले इंटर ने निकोला बरेला के छठे मिनट में किए गए गोल से बढ़त बनाई थी लेकिन एलेक्स सैंड्रो (50वें मिनट) और डूसन व्लाहोविच (52वें) ने दो मिनट के अंतराल में 2 गोल करके युवेंटस को बहुत बढ़िया वापसी दिला दी है. इस जीत से इंटर मिलान इस सत्र में 2 खिताब जीतने के पास पहुंच गए है. वह इटालियन फुटबॉल लीग सेरी ए में भी खिताब की दौड़ में बने हुए है. सेरी ए में एसी मिलान अभी शीर्ष पर है लेकिन इंटर उससे सिर्फ 2 अंक पीछे है.

इंटर मिलान ने लॉटेरो मार्टिनेज के दो गोल की सहायता से अपने चिर प्रतिद्वंद्वी एसी मिलान को दूसरे चरण के सेमीफाइनल में 3-0 में मात देकर इटालियन कप फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल में अपना जगह बना लिया है. मार्टिनेज ने अपने दोनों गोल पहले हॉफ भी डेग दिए है. 

उनके इस बहुत बढ़िया प्रदर्शन से इंटर मिलान ने कुल 3-0 के अंतर से जीत भी हासिल कर ली है. इन दोनों टीम के मध्य सेमीफाइनल के पहले चरण का मैच गोलरहित भी छूट गया था.  इंटर मिलान की ओर से तीसरा गोल रोबिन गोसेन्स ने कर दिया था. यह जनवरी में अटलांटा छोड़कर इंटर मिलान से जुडऩे के उपरांत उनका पहला गोल दागा था. इंटर मिलान फाइनल में युवेंटस या फियोरेनटिना से भिड़ने वाला है. फाइनल 11 मई को खेला जाने वाला है.


मुंबई को मिली सीजन की 10वीं हार

मुंबई को मिली सीजन की 10वीं हार

IPL 2022 के 65वें मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को रोमांचक मोड़ पर 3 रनों से मात दी. यह मुकाबला अंतिम गेंद तक पहुंचा. भुवनेश्वर कुमार ने विकेट मेडन 19वां ओवर डालकर हैदराबाद को जीत दिलाई. अंतिम 13 गेंदों में मुंबई को 19 रन चाहिए थे. इसके बाद 18वें ओवर की अंतिम गेंद पर 18 गेंदों पर 46 रन बनाकर खेल रहे टिम डेविड पवेलियन लौट गए. इसके बाद भुवी ने 19वें ओवर में कमाल किया फिर 20वां ओवर लेकर आए फजलहक फारूखी ने 19 रन नहीं बनने दिए. इस तरह लगातार पांच हार के एसआरएच को छठी जीत मिली.

सनराइजर्स हैदराबाद हालांकि अभी भी पॉइंट्स टेबल में 12 अंकों के साथ आठवें जगह पर है लेकिन टेक्निकली उसकी प्लेऑफ की उम्मीदें अभी भी बरकरार हैं. वहीं मुंबई इंडियंस को 13वें मुकाबले में सीजन की 10वीं हार का सामना करना पड़ा. मुंबई टेबल में 6 पॉइंट्स के साथ अंतिम जगह पर बनी है. 9वें जगह पर है 13 में से 9 मैच हारने वाली चेन्नई सुपर किंग्स. पांच बार की चैंपियन टीम अब अपना अंतिम मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स के साथ खेलेगी.

भुवी ने पलटा मैच का रुख

आपको बता दें इस मैच में टॉस हारकर पहले खेलने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 193 रन बनाए थे. उत्तर में मुंबई इंडियंस की टीम भी पूरे ओवरों में 7 विकेट खोकर 190 रन ही बना सकी. हैदराबाद के लिए राहुल त्रिपाठी ने सर्वाधिक 76 रनों की पारी खेली थी. इसके अतिरिक्त प्रियम गर्ग ने 42 और निकोलस पूरन ने 38 रन बनाए थे. दूसरी तरफ से मुंबई के लिए टिम डेविड ने 18 गेंदों पर 46 रनों की आतिशी पारी खेली लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए.

मैच मुंबई के पक्ष में था और 13 गेंदों पर 19 रनों की आवश्यकता थी. इसी बीच नटराजन के 18वें ओवर में चार छक्के लगाने के बाद अंतिम गेंद पर डेविड रन आउट हो गए. फिर 19वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने पहली गेंद पर बिना खाता खोले संजय यादव को आउट किया और पूरा ओवर मेडन निकाल दिया. इस ओवर ने मैच का रुख पलट दिया. उमरान मलिक ने हैदराबाद के लिए सर्वाधिक चार विकेट झटके.