पश्चिम बंगाल में फूट गया दीदी ओ दीदी का बुलबुला

पश्चिम बंगाल में फूट गया दीदी ओ दीदी का बुलबुला

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में मतगणना के रुझानों से साफ हो गया है कि राज्य में एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस की सत्ता में वापसी हो रही है। मतगणना की शुरुआत में तो भाजपा तृणमूल कांग्रेस को टक्कर देती दिखी मगर धीरे-धीरे टीएमसी ने अपनी ताकत दिखाने के साथ 200 से ज्यादा सीटों पर बढ़त बना ली।

ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पश्चिम बंगाल की चुनावी सभाओं में दोहराया जाने वाला जुमला दीदी ओ दीदी भी चर्चाओं में आ गया है। रुझानों से साफ हो गया है कि पश्चिम बंगाल में दीदी ओ दीदी नहीं बल्कि दीदी ही दीदी दिखाई दे रही हैं। विपक्ष की ओर से पीएम मोदी के दीदी ओ दीदी वाले जुमले पर तंज भी कसा गया है।

पीएम मोदी का दीदी ओ दीदी का जुमला

पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत झोंक रखी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड के अलावा राज्य के विभिन्न हिस्सों में बड़ी चुनावी रैलियां की थीं। अपनी इन चुनावी रैलियों में पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर करारा हमला बोला था। चुनावी रैलियों में दोहराया जाने वाला पीएम मोदी का जुमला दीदी ओ दीदी काफी चर्चित हो गया था। अब पीएम मोदी के इस जुमले को लेकर भी वार किया जाने लगा है।

अखिलेश यादव ने कसा पीएम के जुमले पर तंज

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पीएम मोदी के जुमले की याद दिलाते हुए ममता बनर्जी और टीएमसी को बंगाल की जीत के लिए बधाई दी है। उन्होंने दीदी ओ दीदी के जुमले पर तंज भी कसा है।

अपने ट्वीट में अखिलेश यादव ने लिखा है कि भाजपाइयों की ओर से एक महिला पर किए गए अपमानजनक कटाक्ष दीदी ओ दीदी का जनता ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट के साथ दीदी जिओ दीदी हैशटैग का इस्तेमाल किया है।

जुमला बोलने वाला दादा कहां गया

टीएमसी की सांसद काकोली घोष ने दीदी ओ दीदी के जुमले को लेकर जोरदार पलटवार किया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की करीबी माने जाने वाली काकोली ने दीदी ओ दीदी जुमले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है। काकोली ने इस बाबत ट्वीट करते हुए कहा कि दीदी ओ दीदी बोलने वाला दादा आखिरकार कहां चला गया। यह पूरी तरह स्पष्ट है कि दादा शब्द का उल्लेख काकोली ने किसके लिए किया है। काकोली ने पीएम मोदी के इस्तीफे वाले हैशटैग का इस्तेमाल किया है।

भाजपा ने झोंक दी थी पूरी ताकत

दरअसल पश्चिम बंगाल क विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी थी और पीएम मोदी सहित पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं ने बंगाल में भाजपा को जिताने के लिए खूब मेहनत की थी। पीएम मोदी के अलावा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी बंगाल में रोड शो और रैलियों के जरिए हवा का रुख भाजपा के पक्ष में मोड़ने के लिए जी तोड़ मेहनत की थी।

धरा रह गया अमित शाह का दावा

चुनाव प्रचार के दौरान विभिन्न चैनलों से बातचीत में शाह ने भाजपा को 200 से अधिक सीटें मिलने का दावा किया था। उनका कहना था कि पार्टी ने इसके लिए जमीनी स्तर पर काम किया है।

पार्टी इस बार के चुनाव में अपनी ताकत दिखाने में कामयाब रहेगी मगर मतगणना के रुझानों से साफ हो गया है कि भाजपा स्थिति का आकलन करने में पूरी तरह नाकामयाब रही और दीदी ने बंगाल में एक बार फिर अपनी ताकत दिखा दी। यही कारण है कि पीएम मोदी के दीदी और दीदी के जुमले को लेकर अब जोरदार पलटवार किया गया है।


कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं

कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं

नई दिल्‍ली: कोविड-19 वायरस ( Covid-19 ) महामारी के शुरुआती दौर से ही इसकी पड़ताल जारी है लोगों को बचाने के लिए हिंदुस्तान और पूरे विश्व में लगातार अध्ययन हो रहे हैं जिनके नतीजे साइंस जर्नल और अन्य प्लेटफार्म पर प्रकाशित होते रहते हैं ऐसे में हाल ही में आई कुछ रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 वैक्सीन ( कोरोना वैक्सीन ) की पहली डोज लेने के बाद भी कुछ लोग कोविड-19 पॉजिटिव (Covid 19 Positive) हो रहे हैं मेडिकल एक्सपर्ट्स ने इसे ‘ब्रेकथ्रू केस’ नाम दिया है हालांकि अपने देश की बात करें तो इस मुद्दे में भारतीय लोग अधिक भाग्यशाली हैं क्योंकि हिंदुस्तान में ऐसे मुद्दे एकदम कम हैं  

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की स्डटी के अनुसार हिंदुस्तान में इस तरह के ‘ब्रेकथ्रू केस’ का आंकड़ा केवल 0.05 परसेंट ही है वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार यदि वैक्सीन की पहला डोज लगने के बाद कोई संक्रमित हो जाता है तो इसका ये मतलब नहीं है कि वो दूसरी डोज नहीं ले सकता है ऐसे लोगों को केवल इस बात का ध्यान रखना होगा कि दूसरी डोज का अंतराल संक्रमण से ठीक यानी कोविड निगेटिव होने के बाद कम से कम चार से आठ सप्ताह के बीच होना चाहिए

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार ऐसे लोग जिनमें कोविड-19 संक्रमण के सक्रिय लक्षण हों या वो लोग जिनके शरीर में Covid-19 के विरूद्ध एंटीबॉडी हो उनके लिए दूसरी डोज लगवाने से पहले 4 से 8 सप्ताह का गैप महत्वपूर्ण है वहीं प्लाज्मा ले चुके लोगों के साथ अधिक बीमार या फिर दूसरी रोंगों से ग्रस्त लोगों के लिए भी वैक्सीन की दूसरी डोज लेने में एक महीने से दो महीने का गैप रखा जाना चाहिए

दरअसल एक्सपर्ट्स का मानना है कि वैक्सीन की कार्यप्रणाली का भी अपना प्रभाव होता है सभी की सुरक्षा लगातार और बेहतर होती रहे इस पर अध्ययन जारी है   वैक्सीन की पहली डोज लेने ते बाद भी यदि कोविड-19 संक्रमण हो जाए तो इसमें घबराने की आवश्यकता नहीं है


भारत में Covid-19 की दूसरी लहर में हो रही मौतों से विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंतित, कहा...       कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं       बीते 24 घंटे में 3.29 लाख नए केस आए, 3876 मरीजों ने गंवाई जान       योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ डब्‍ल्‍यूएचओ       देश में अब तक 17.27 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन       अफगानिस्तान में भारतीय राजनयिक विनेश कालरा का मृत्यु       जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखी पांच पन्नों की चिट्ठी, कहा...       कोविड-19 मुद्दे में केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को दी अति उत्साह में निर्णय ना लेने की सलाह, कहा...       Ghazipur में गंगा नदी में दर्जनों लाशें दिखने से मचा हड़कंप       राहुल का प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर जोरदार हमला, कहा...       नगालैंड और तेलंगाना सरकार ने लिया संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला!       सना मकबूल ने मनोकिनी में शेयर की कातिलाना फोटोज, तस्वीरों ने लूटा फैंस का दिल       शेफाली जरीवाला ने ट्रांसपेरेंट टॉप में दिखाईं ग्लैमरस अदाएं, देखें फोटोज       ये है दुनिया का सबसे अनोखा रेस्टोरेंट, हवा में ले सकते हैं खाना खाने का आनंद       अपने चेहरे को चमकदार और खूबसूरत बनाये रखने के लिए अपनाएं ये देसी तरीके       लम्बे समय तक ब्यूटीफुल और यंग दिखने के लिए फॉलो करें ये टिप्स       आखिर महिलाएं रोमांस के लिए क्यों करती है सर्दियों का इंतजार       अलाना पांडे के बोल्ड बिकिनी अवतार ने गर्माया इंस्टा का माहौल       अगर पैसे कमाने के बावजूद घर में नहीं टिकता है पैसा, तो...       घर में गलत दिशा में लगी घडी भी आपको कर सकती है बर्बाद