बीच सड़क पर शराबी ने सांड से की ऐसी लड़ाई

बीच सड़क पर शराबी ने सांड से की ऐसी लड़ाई

सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है, जिसे देख आप भी अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे। इस वीडियो में एक शराबी ने बीच सड़क पर जिस तरह उत्पात मचाया है और फिर सड़क से गुजर रहे सांढ़ से जो लड़ाई की है। वह हास्यास्पद है, लेकिन खतरनाक है। लोगों को इस तरह की हरकत से परहेज करना चाहिए। इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किसी भीड़-भाड़ इलाके में सड़क पर एक शराबी सांढ़ से दो-दो हाथ कर रहा है। सांड बेहद ताकतवर जानवर माना जाता है। खासकर लड़ाई के दौरान सांडों की आंखों में अतिरिक्त रोष देखा जाता है। इसके लिए बड़े बुजुर्ग हमेशा बच्चों को सांड से दूर रहने की सलाह देते हैं।


इसके बावजूद शराबी बिना किसी खौफ के सांड से लड़ रहा है। शराबी सांड के दोनों सींगों को पकड़कर उसे काबू में करने की कोशिश कर रहा है। सांड शराबी को हल्के में ले रहा है। इसके लिए पूरी ताकत का जोर आजमाइश नहीं कर रहा है। मानो सांड कहना चाह रहा है कि ये शराबी बाबला हो गया है। हालांकि, शराबी लड़ाई को लेकर बेहद गंभीर है और बीच सड़क पर खुद को बाहुबली समझ लोगों को अपनी ताकत दिखा रहा है।

ऐसा लगता है कि शराबी दुनिया को बताना चाहता है कि वह शराबी ही नहीं, बल्कि ताकतवर भी है। कुछ लोग सांड और शराबी की लड़ाई का जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। तभी सांड़ जोर आजमाइश कर देता है, तो शराबी अपनी जगह से दो कदम पीछे खिसक जाता है। उस समय शराबी और तांव में आ जाता है और सांड की सींगों को मरोड़ने लगता है। इससे सांड असहज महसूस करने लगता है। आखरिकार सांड हार मानकर जमीन पर लेट जाता है। मानो वह कहना चाहता है कि आज तेरी किस्मत तुम्हारे साथ है। कल मेरे साथ होगी, तो तुझे जरूर सबक सिखाऊंगा। वहीं, शराबी अपनी जीत का जश्न मनाने लगता है।


इस वीडियो को सेवा अधिकारी ने शेयर किया है

इस वीडियो को भारतीय सेवा अधिकारी Rupin Sharma IPS ने सोशल मीडिया ट्विटर पर अपने अकांउट से शेयर किया है। इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा है- 35 रुपये के देशी में बाहुबली का भल्लालदेव। इस वीडियो को खबर लिखे जाने तक तकरीबन 1 हजार बार देखा गया है। वहीं, कुछ लोगों ने पसंद कर कंमेटस किए हैं। आपको बता दें कि यह वीडियो कई साल पुराना है और कई बार सोशल मीडिया पर वायरल भी हो चुका है। इसके बावजूद लोग वीडियो को खूब पसंद कर रहे हैं। इसी क्रम में एक बार फिर वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है।


ये डॉक्टर बना मानवता की मिशाल, किडनी ट्रांसप्लांट किया, मरीज को खून भी दिया

ये डॉक्टर बना मानवता की मिशाल, किडनी ट्रांसप्लांट किया, मरीज को खून भी दिया

भोपाल हमीदिया हॉस्पिटल को प्रदेश में पहला किडनी ट्रांसप्लांट करने का खिताब मिल चुका है. इस ट्रांसप्लांट यूनिट को प्रारम्भ कराने के लिए डाक्टर हिमांशु शर्मा बीते पांच वर्षों से कोशिश कर रहे थे.
जब पहले ट्रांसप्लांट की घड़ी आई तो मरीज का हीमोग्लोबिन कम निकला. ट्रांसप्लांट के लिए करीब 6 यूनिट ब्लड की आवश्यकता थी. मरीज के बेटे राजीव शर्मा ने कोशिश किया लेकिन ओ पॉजीटिव ग्रुप का ब्लड नहीं मिल पा रहा था जब इसकी जानकारी डाक्टर हिमांशु शर्मा को लगी तो उन्होंने स्वयं ब्लड दिया. बुधवार को हमीदिया में मुरैना से पहुंचे मरीज केशव दत्त शर्मा के संबंधियों ने डाक्टर शर्मा के सरेंडर की सराहना की.


अब मिली सफलता
डाक्टर हिमांशु शर्मा ने 2017 में एमडी करने के बाद हमीदिया हॉस्पिटल में ज्वाइनिंग दी थी. तभी से वे यहां किडनी ट्रांसप्लांट यूनिट प्रारम्भ करने के कोशिश में जुट गए. डेढ़ वर्ष पहले आई कोविड-19 महामारी ने उनके कोशिश को रोक दिया लेकिन जैसे ही मरीज कम हुए उन्होंने फिर अपनी मुहिम प्रारम्भ की और 7 सितंबर को मुरैना के पोरसा निवासी केशव दत्त शर्मा को उनकी पत्नी की किडनी प्रत्यारोपित कर प्रदेश में पहले सरकारी ट्रांसप्लांट करने वाले हॉस्पिटल में शामिल किया.

तीन दिन में डिस्चार्ज
केशव दत्त शर्मा के बेटे राजीव ने बताया कि दो-तीन दिन में हॉस्पिटल से माता-पिता को डिस्चार्ज किया जाएगा. इस मौके पर पूरा परिवार हॉस्पिटल पहुंचकर डाक्टर हिमांशु और पूरी टीम को धन्यवाद देंगे.