...तो इस वजह से महिला व पुरुष बन जाते है "बाइसेक्सुअल", जानें

...तो इस वजह से महिला व पुरुष बन जाते है "बाइसेक्सुअल", जानें

क्या आप इस बारें में जानते है कि एक आदमी को "बाइसेक्सुअल" तब बोला जाता है जब वह पुरुष व महिलाओं, दोनों ही की तरफ मानसिक या शारीरिक रूप से आकर्षित होता है। या वह महिला व पुरुष दोनों के साथ संबंध बनाने की ख़्वाहिश रखता है। वहीं बाइसेक्सुअल होना आदमी के मन की इच्छाओं व व्यवहार की एक सामान्य स्थिति है। यह कोई रोग या संक्रामक बीमारी नहीं है। यह बात अभी तक अज्ञात है कि कोई बाइसेक्सुअल क्यों होता है।

व्यक्ति बाइसेक्सुअल क्यों होता है: किसी आदमी के समलैंगिक व बाइसेक्सुअल होने के कारणों के बारे में कुछ भी ठीक तरह से मालूम नहीं चल सका है, लेकिन कुछ रिसर्च से पता चलता है कि जन्म से पहले के कुछ जैविक कारकों द्वारा "सेक्सुअल ओरिएंटेशन" की आसार आंशिक रूप निर्धारित होती है।

सेक्सुअल ओरिएंटेशन कोई विकल्प नहीं है व ना ही इसको बदला जा सकता है। किसी भी थेरेपी, इलाज या अन्य तरीका से आदमी की सेक्सुअल ओरिएंटेशन को नहीं बदला जा सकता है। इसके अतिरिक्त आप किसी भी आदमी को बाइसेक्सुअल में परिवर्तित नहीं कर सकते हैं।