तूफान वायु ने दिशा बदली, नहीं टकरायेगा गुजरात तट से

तूफान वायु ने दिशा बदली, नहीं टकरायेगा गुजरात तट से

गांधीनगर (गुजरात): अरब सागर में उठा चक्रवात वायु धीरे-धीरे गुजरात तट से दूर जा रहा है. मौसम विभाग ने शनिवार शाम को बताया कि अभी चक्रवात पोरबंदर से 335 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में है. हालांकि,शुक्रवार को केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने बोला था कि वायु 17 व 18 जून को लौटकरगुजरात केकच्छ व सौराष्ट्र के तटों से टकरा सकता है. इसकी तीव्रता कम हो सकती है. सीएमविजय रूपाणी ने भी बोला कि अब तूफान का कोई खतरा नहीं है.

इससे पहले मौसम विभाग ने चक्रवात वायु को गुरुवार दोपहर तक वेरावल तट से टकराने की आसारजताई थी, लेकिन यह 100 किमी दूर से ही दूसरी दिशा में मुड़ गया था व खतरा टल गया था.तूफान के कारणवेरावल,गिर, सोमनाथ, दीव, जूनागढ़ व पोरबंदर में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई थी.

गुजरात सरकार ने कहा- तूफान पर नजर रखी जा रही

  • अहमदाबाद में मौसम विज्ञान केन्द्र की अलावा निदेशक मनोरमा मोहंती ने बोला कि अभी यह भविष्यवाणी करना जल्दबाजी होगी कि चक्रवात कच्छ औरसौराष्ट्र में फिर से आ जाएगा व इसका प्रभाव कम होगा. गुजरात सरकार ने बोला है कि तूफान पर नजर रखी जा रही है.
  • मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने शुक्रवार को ऐलान किया कितूफान के कारण 10 तटीय जिलों के निचले इलाकों से स्थानांतरित किए गए करीब पौने तीन लाख लोगों को नियम के मुताबिक, लगभग साढ़े पांच करोड़ रुपए की नकद सहायता दी जाएगी. प्रदेश सरकार के कैंपों में स्थानांतरित किए गए प्रत्येक वयस्क को 60 रुपए व बच्चे को 45 रुपए की दर से नकद सहायता दी जाएगी.

तलाला में सबसे ज्यादा160 मिमीबारिश हुई

चक्रवाती तूफान वायु के असर से पिछले 24 घंटे में प्रदेश के कुल 33 में से 26 जिलों की 114 तहसीलों में बारिश हुई. गिर सोमनाथ जिले के तलाला क्षेत्र में सर्वाधिक आधे फीट यानी छह इंच से भी अधिक पानी बरसा. कम से कम नौ तहसीलों में दो इंच से 51 मिलीमीटर व 30 तहसीलों में एक इंच से अधिक बारिश हुई.

शहर बारिश
तलाला 160 मिमी
सूत्रापाड़ा 145 मिमी
जूनागढ़ के वंथली 86 मिमी
मेंदरडा 72 मिमी
मालिया 69 मिमी
वेरावल 60 मिमी
जूनागढ़ शहर 57 मिमी
भावनगर 57 मिमी