ऐसी महिलाएं ही बनती हैं कुल के विनाश का कारण

ऐसी महिलाएं ही बनती हैं कुल के विनाश का कारण

हमारे हिन्दू ग्रंथों और मनुस्मृति में महिलाओं के लिए कुछ नियम निर्धारित किए गए हैं। जिससे उनकी पवित्रता बनी रहती है और वो समाज में आदर पाती हैं। किसी महिला का चरित्र गिर जाए तो उसकी समाज में निंदा होती है, अपमान होता है। चरित्रहीन महिला पापों में लगकर पशुता तथा नरकों की तरफ जा रही होती है।

चरित्रहीन होती हैं ऐसी महिलाएं:

# मदिरा पान करने वाली, उत्पाती पुरुषों का संग करने वाली, पति के साथ न रहने वाली, बिना किसी काम के इधर-उधर विचरन करने वाली, असमय एवं देर तक सोने वाली, अपना घर छोड़ दूसरे के घर में रहने वाली।

# शर्म और लज्जा नारी के आभूषण हैं। जब कोई महिला इनका त्याग कर देती है तो उसे अपयश का सामना करना पड़ता है। मदिरा पान करने वाली महिलाएं परिवार और समाज में अपना वर्चस्व खो देती हैं।


# उत्पाती पुरुषों का संग करने वाली महिलाओं का पतन बहुत जल्दी हो जाता है। उनकी वजह से परिवार की अन्य महिलाओं को भी समाज में बुरी नजरों से देखा जाता है।

# पति के साथ न रहने वाली महिलाओं और उनके बच्चों का भविष्य अंधकार में डूब सकता है। विवाह उपरांत पति के साथ रहने पर ही महिला को समाज में उचित मान- सम्मान प्राप्त होता है।

# बिना किसी काम के इधर-उधर विचरन करने वाली महिला के चरित्र में दोष आ सकता है। विवाहित महिला ऐसा करे तो वो अपने ससुराल और मायके दोनों की प्रतिष्ठा को धूमिल करती है।


# असमय एवं देर तक सोने वाली महिलाएं अपने शरीर का तो नुक्सान करती ही हैं साथ ही पारिवारिक दायित्व ठीक से नहीं निभा पाती इसलिए वो शारीरिक और मानसिक रूप से बीमार रहती हैं।

# पिता और पति ये दो घर ही महिलाओं के लिए उपयुक्त माने गए हैं। अपना घर छोड़ दूसरे के घर में रहने वाली महिला के चरित्र में दोष आ सकता है।


बचे हुए राजमा का लें ज़ायका 'मसाला पूड़ी'

बचे हुए राजमा का लें ज़ायका 'मसाला पूड़ी'

सामग्री :

1 कटोरी बचा राजमा, 2.5 कप आटा, 2 टेबलस्पून ताजा कटा धनिया, 1/2 कप सूजी, 1 टीस्पून कसूरी मेथी, नमक, 1 नींबू का रस, 1 टीस्पून चीनी, जरूरत भर पानी, तेल तलने के लिए, थोड़ा-सा बारीक कटा धनिया

विधि :

एक बोल में राजमा लेकर मैश कर लें। इसमें आटा, नमक, चीनी, धनिया, सूजी, कसूरी मेथी, नींबू का रस, धनिया और एक टेबलस्पून तेल डालें। इसे मिलाएं। अब थोड़े-थोड़े पानी के साथ आटा गूंथें।
आटा गूंथने के बाद इसे ढककर करीब 10 मिनट के लिए अलग रख दें।
अब एक-एक कर पूड़ियां बेलें। कडा़ही में एक-एक डालकर दोनों ओर से पलटते हुए सेंकते जाएं।
एक प्लेटपर एब्जॉर्बेंट पेपर बिछाएं। इस पर पूड़ियां निकालते जाएं।
राजमा मसाला पूड़ी को आप खट्टे-मीठे अचार, तरीदार आलू की सब्जी और चाय के साथ गर्मागर्म सर्व करें।


गर्मियों में बीमारियों से बचने के लिए ध्यान रखें ये विशेष बातें       राजेश खन्ना के बंगले में जमीन पर बैठते थे डायरेक्टर-प्रोड्यूसर       अथिया शेट्टी ने किया rumoured बॉयफ्रेंड KL Rahul को बर्थडे विश       रिजिजू ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक आने की उम्मीद       कुम्भ मेले से लौटने वाले लोग बढ़ा सकते हैं कोरोना महामारी को : संजय राउत       अखिलेश ने कहा कि लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट को कोरोना मरीजों के लिए खोले योगी सरकार       राज ठाकरे ने कहा कि प्रवासी मजदूर हैं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार       योगी सरकार के मंत्री ने ही लखनऊ में कोरोना हालात पर उठाए सवाल, CM पृथक-वास में       किसी वर्ग का नहीं, सबका होता है मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ       यूपी में कोरोना का कहर, योगी सरकार ने उठाए ऐहतियाती कदम       रमजान समेत अन्य त्योहारों को लेकर बोले सीएम योगी       उत्तरप्रदेश में टूटा Corona का कहर, एक दिन में मिला इतने नए केस       दिल्ली के बाद UP में भी लगा Lockdown, बंद रहेंगे सभी बाजार और दफ्तर       High Level मीटिंग के दौरान Nude दिखे कनाडा के सांसद       हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत       कोरोना वायरस रोधी टीके है कम असरदार, चीन के अधिकारी का दावा       रेप की घटनाओं पर इमरान खान का बेतुका बयान, कहा...       फ्रांस से तीन और राफेल विमान बिना रुके पहुंचे भारत       हर्षवर्धन ने साधा निशाना, मोदी सरकार को रास नहीं आए मनमोहन के कोरोना पर सुझाव       अभी अभी: मनमोहन सिंह कोरोना वायरस से संक्रमित, एम्स में भर्ती